बोकारो में महिला का कटा सिर मिला, धड़ तलाश करने में जुटी पुलिस

बोकारो में महिला का कटा सिर मिला, धड़ तलाश करने में जुटी पुलिस

बोकारो। झारखंड में बोकारो के सेक्टर-12 थाना क्षेत्र के बड़याडीह गांव के पास बुधवार को थैले में युवती का कटा सिर बरामद हुआ है। सिर लगभग 18 वर्षीया युवती का जान पड़ता है। पुलिसयुवती का धड़ तलाश करने में जुटी हुई है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि अभी भी युवती के धड़ का बरामद नहीं किया जा सका है। उन्होंने बताया कि पुलिस युवती का धड़ बरामद करने के लिए जंगलों में खोजबीन कर रही है।

बोकारो सेक्टर-12 थाना के प्रभारी जयगोविंद गुप्ता ने आज बताया कि सातनपुर के ग्रामीणों ने सूचना दी कि एक गर्दन से अलग सिर फेंका हुआ है जिसके बाद पुलिस ने वहां पहुंचकर सिर को अपने कब्जे में किया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। पुलिस युवती की शिनाख्त का प्रयास कर रही है। पुलिस इसे घरेलू हिंसा एवं किसी के द्वारा हत्या कर फेंके जाने सहित कई बिन्दुओ से देख रही है। थाना प्रभारी ने बताया कि प्रथम दृष्टया युवती 18 से 20 वर्ष की प्रतीत होती है। पुलिस ने बताया कि घटनास्थल के निरीक्षण से ऐसा प्रतीत होता है कि युवती की हत्या कहीं और करके शव यहां फेंका गया है।


5 माह पहले हुई सगाई, दूसरी लड़की को लेकर भागा मंगेतर तो टूट गई थी शादी

5 माह पहले हुई सगाई, दूसरी लड़की को लेकर भागा मंगेतर तो टूट गई थी शादी

बीए फाइनल ईयर की छात्रा की धारदार हथियार से गला काटकर हत्या कर दी गई। मामला जयपुर ग्रामीण क्षेत्र में गुरुवार का है। छात्रा का शव घर से करीब 150 मीटर दूर खेत में कंटीले तारों के बीच मिला। छात्रा की 5 माह पहले सगाई हुई थी, मगर मंगेतर के दूसरी लड़की को लेकर भागने के चलते शादी टूट गई थी।

छात्रा के शव के पास काफी खून बिखरा मिला, लड़का बना रहा था दबाव
जयपुर ग्रामीण में एएसपी सुमित गुप्ता ने बताया कि शव की शिनाख्त मनीषा मीणा (19) के रूप में हुई है। वह बीए फाइनल ईयर की स्टूडेंट थी। डोडा वाली ढाणी निवासी राजकुमार मीणा की बेटी मनीषा की 5 महीने पहले सगाई हुई थी। मंगेतर किसी दूसरी युवती को लेकर भाग गया, जिसके बाद छात्रा के परिवार ने शादी तोड़ दी थी। हालांकि, लड़का शादी का दबाव बना रहा था।

पुलिस को अंदेशा, वारदात में किसी परिचित का हाथ
पुलिस को अंदेशा है कि वारदात में किसी परिचित व्यक्ति का हाथ है, जिसने बुधवार रात को युवती को घर से बाहर बुलाया। इसके बाद खेत में उसकी हत्या की और भाग निकला। घटनास्थल पर काफी खून बिखरा हुआ था। प्रागपुरा थाना पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवाया है।

बड़े भाई ने दी जानकारी, कमरे से गायब थी मनीषा
मनीषा का एक बड़ा भाई मनोज है। साथ ही तीन बहनें हैं। मनीषा बहनों में दूसरे नंबर की थी। उसके पिता और भाई शादी का डीजे का बिजनेस करते हैं। दोनों बुधवार दोपहर को किसी प्रोग्राम में गए थे। रात करीब 12 बजे बड़ा भाई मनोज घर पहुंचा। तब कमरे में उसे छोटी बहन मनीषा नजर नहीं आई।

तलाश करते हुए कंटीले तारों की मेड़ के पास पहुंचे
मनोज ने अपनी मां को जगाकर पूछा तो उसने भी मनीषा के बारे में जानकारी होने से इंकार कर दिया। इस बीच मनोज के पिता राजकुमार भी घर आ गए। तब वे मनीषा को आसपास तलाश करते हुए करीब 150 मीटर दूर खेत में कंटीले तारों की मेड़ के पास पहुंचे। जहां मनीषा की लाश नजर आई। इससे परिजन बदहवास हो गए। गुरुवार सुबह पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। घटनास्थल का एफएसएल और डॉग स्क्वायड टीम से मुआयना करवाया।

पुलिस को परिचित पर शक, कुछ महीने पहले ही टूटी थी मनीषा की सगाई
प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया कि मनीषा की पांच महीने पहले ही एक युवक से सगाई हुई थी। लेकिन वह युवक किसी और लड़की को लेकर भाग गया। पुलिस ने भागी हुई लड़की और लड़के को पकड़ लिया। लेकिन मनीषा के घर वालों ने सगाई तोड़ दी। इसके बाद युवक मनीषा पर सगाई व शादी करने का दबाव डाल रहा था। जिसके लिए वह तैयार नहीं थी।

पुलिस कर रही युवक की तलाश, रात 8 बजे तक कमरे में ही थे
पुलिस छात्रा के उस मंगेतर की तलाश कर रही है। पुलिस को घटनास्थल पर मनीषा के घर से करीब 50 मीटर दूर खेत में संघर्ष के निशान भी मिले है। मनीषा की बहन ने बताया कि रात 8 बजे तक वह कमरे में ही थी। इसके बाद वह कमरे के दरवाजे पर नजर आई थी। लेकिन फिर कब बाहर निकली। यह उसे पता नहीं है।