काटा रेखा का गला सरेआम हत्या

काटा रेखा का गला सरेआम हत्या

पूणे: राजनीतिक दलों के साथ काम करने वाली यशस्विनी महिला ब्रिगेड की अध्यक्ष रेखा भाऊसाहेब जरे पाटिल की दो अज्ञात बाइक सवारों ने गला काट कर हत्या कर दी। बता दें कि मामला महाराष्ट्र के अहमदनगर का है, जहां उनकी कार ने एक बाइक सवार को ओवरटेक किया। ओवर टेक करने के कारण बाइक सवारों ने रेखा भाऊसाहेब जरे पाटिल की हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक, यह घटना बीते सोमवार की है।

आखिर क्यों रेखा पर हुआ हमला
मामला मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह घटना बीते सोमवार सुबह करीब 8.20 पर हुई, जब यशस्विनी महिला ब्रिगेड की अध्यक्ष रेखा भाऊसाहेब जरे पाटिल अपनी मां, बेटे और एक दोस्त के साथ पुणे से अमहदनगर जा रही थीं। उनकी कार ने पारनेर के जटेगांव घाट पर एक बाइट को ओवरटेक कर दिया था, बाइक सवारों ने आगे जाकर सड़क के बीच में अपना बाइक खड़ा कर दिया। अचानक बाइक खड़ा होने के कारण रेखा ने कार को रोक दिया। इसके बाद रेखा और बाइक सवार के बीच जमकर बहस हुई।

रेखा के परिवार ने दोनों पक्षों को बहस करने से रोका
कार में बैठें रेखा के परिवार ने दोनों को बहस करने से रोका, लेकिन बहस जारी रही। उन्होंने बताया कि बहस के दौरान बाइक सवारों ने चाकू निकाला और रेखा के गले पर वार दिया, जिसके बाद वह गिर गईं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि रेखा को अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन उनकी मौत रास्ते में ही हो गई। वहीं वारदात को अंजाम देने के बाद बाइक सवारों वहां से रफूचक्कर हो गए।

रेखा थी प्रभावशाली महिला नेता
यशस्विनी महिला ब्रिगेड की अध्यक्ष रेखा भाऊसाहेब जरे पाटिल अहमदनगर की जानी मानी प्रभावशाली महिला नेता थी। वह कई सामाजिक मुद्दों पर अपनी आवाज बुलंद किया करती थीं। वह एनसीपी में भी सक्रिय थीं। रेखा की हत्या की खबर सुनकर पूरे जिले में हड़कंप मच गया। फिलहाल पुलिस ने इस घटना को रोड-रेज के तहत जांच की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

पुलिस ने दी जानकारी
बरहाल, पुलिस ने घटना की जानकारी देते हुए कहा कि हत्यारों को पकड़ने के लिए पुलिस की दो टीम बनाई गई हैं। दोनों ही टीमें उन हत्यारों को ढूंढने में जुट गई हैं। वहीं हाइवे पर लगे सभी सीसीटीवी कैमरों को खंगाला जा रहा है। पुलिस का मानना है कि यह हमला प्री-प्लान भी हो सकता है।


मीडिया रिपोर्ट्स में दावा- नॉर्वे में वैक्सीनेशन के बाद 23 लोगों की मौत, फाइजर की वैक्सीन पर सवाल

मीडिया रिपोर्ट्स में दावा- नॉर्वे में वैक्सीनेशन के बाद 23 लोगों की मौत, फाइजर की वैक्सीन पर सवाल

कई देशों में कोरोना वायरस से निपटने के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो गया है। इस बीच नॉर्वे से एक हैरान करने वाली खबर आई है। चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक, यहां वैक्सीन लगवाने के बाद 23 लोगों की मौत हो गई। बताया जाता है कि इन सभी को अमेरिकी कंपनी फाइजर की वैक्सीन लगाई गई थी।

नॉर्वे में नए साल के जश्न के 4 दिन बाद वैक्सीनेशन शुरू किया गया था। देश में 33 हजार लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है। नॉर्वे की मेडिसिन एजेंसी के अनुसार, अब तक 29 लोगों में साइड इफेक्ट दिखे हैं। 23 मरीजों की मौत हो गई है। इनमें से 13 की पुष्टि हुई है। नॉर्वे में कोरोना के 57 हजार 736 केस सामने आ चुके हैं।

मरने वालों में ज्यादातर की उम्र 80 साल से ज्यादा थी
एजेंसी के डायरेक्टर स्टाइनर मैडसेन ने कहा कि मरने वालों में ज्यादातर की उम्र 80 साल से ज्यादा थी। जांच में पाया गया कि इनमें से कई अस्पताल में एडमिट थे। कुछ लोगों ने वैक्सीन लगने के बाद बुखार और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत की थी। फिर उनकी हालत बिगड़ गई।

मैडसेन से कहा है कि ऐसे मामले बहुत रेयर हैं। हजारों लोगों को बिना किसी साइड इफेक्ट के वैक्सीन लगाई गई है। इस तरह यह माना जा सकता है कि जिन लोगों की मौत हुई, वे दिल की बीमारी या किसी अन्य गंभीर बीमारी से पीड़ित थे।

एक्सपर्ट का दावा- वैक्सीन जल्दबाजी में डेवलप की गई
रूस की न्यूज एजेंसी स्पूतनिक की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 29 लोगों में साइड इफेक्ट की सूचना आई थी। इनमें से 23 की मौत हो गई। इन्हें वैक्सीनेशन से जोड़ा जा रहा है। वहीं ग्लोबल टाइम्स ने शुक्रवार को कहा कि देश के हेल्थ एक्सपर्ट्स ने फाइजर की mRNA बेस्ड वैक्सीन का इस्तेमाल रोकने के लिए गुजारिश की है। चीन के एक्सपर्ट के मुताबिक यह वैक्सीन जल्दबाजी में डेवलप की गई थी।


‘तांडव’ वेब सीरीज पर हंगामे को लेकर साक्षी महराज बोले...       फैंस हो जाएं अलर्टः बॉलीवुड में बढ़ी हैकिंग क्राइम, अब इस एक्ट्रेस का इंस्टाग्राम अकाउंट हैक       ‘तांडव’ पर मचा घमासान: बीजेपी करेगी विरोध प्रदर्शन, नेता बोले...       इस बड़ी एक्ट्रेस के खिलाफ पूर्व राज्यपाल ने दर्ज कराई FIR       सीएम योगी, कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा के पिता को दी श्रद्धांजलि       यूपी में बची इतनी वैक्सीन, 22 जनवरी को फिर टीकाकरण       वैक्सीन से मौत! टीका लगवाने के 24 घंटे बाद तोड़ा दम, UP में हड़कंप       लखनऊ में कोरोना हारा, 6 महीने में सिर्फ इतने संक्रमित       लखनऊ में रेल हादसा, पटरी से उतरे ट्रेन के डिब्बे       यूपी कैबिनेट विस्तार, 26 जनवरी के बाद कई मंत्रियों की छुट्टी       पाकिस्तान में मोदी-मोदी, अलग सिंधु देश की उठी मांग       WHO पर हावी है चीन, तो कैसे पता चलेगा कोरोना का स्रोत       वुहान लैब के वैज्ञानिकों ने उगला राज, ‘कोरोना’ पर दुनिया के सामने बेनकाब हुआ चीन       अब तक 10 से ज्यादा पत्रकारों की मौत, इस देश में दो जजों की गोली मारकर हत्या       वैक्सीन लाई करीब, कोरोना से जंग में ओली के साथ मोदी सरकार       खुले स्कूलः इन नियमों का पालन होगा जरुरी, बच्चे क्लासेज के लिए तैयार       फिर थर्राई धरती, भूकंप ने लोगों की उड़ाई नींद       शराब पर बैन, खरीदने-बेचने पर 1000 जुर्माना       एक्सप्रेस-वे पर भीषण हादसा, आपस में टकराईं 10 से ज्यादा गाड़ियां       पाकिस्तान का हमला! अंधेरे में तड़तड़ाई गोलियां, श्रीनगर में गूंजी चीखें