इतनी भी क्या जल्दी, कोरोना संक्रमित दूल्हे ने पीपीई किट पहन लिए सात फेरे

इतनी भी क्या जल्दी, कोरोना संक्रमित दूल्हे ने पीपीई किट पहन लिए सात फेरे

कोरोना वायरस ने आज मनुष्य जाति को सीमित बना दिया है। इस वायरस के बढ़ते प्रभाव के चलते आज इंसान कैद हो गया है। उसका किसी से मिलना जुलना और सामाजिक गतिविधियां सब लगभग बंद हो चुकी हैं। इसके बाद भी कोरोना से जुड़ी कुछ अजब-गजब घटनाएं सामने निकल कर आ रहीं हैं। इस क्रम में एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में दूल्हा और दुल्हन पीपीई किट पहनकर सात फेरे लेते हुए दिख रहें हैं। 
 
वीडियो में आप देख सकते हैं कि दूल्हा और दुल्हन हवन कुंड के सात फेरे ले रहें हैं। इस दौरान दुल्हन ने किसी भी प्रकार का लाल जोड़ा नहीं पहन रखा है। वहीं दूल्हे ने भी कोई शेरवानी नहीं पहनी हुई है। बल्कि दोनों पीपीई किट पहनकर सात फेरे लेते दिख रहें हैं। वहीं बाकी परिजन भी पीपीई किट पहनकर पास बैठे हुए तमाम रस्मों को निभा रहें हैं। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह घटना मध्यप्रदेश के रतलाम की है। यहां पर एक शख्स की शादी होने वाली थी लेकिन शादी के ठीक पहले वह कोरोना पॉजिटिव हो गया। इसके बाद रतलाम के तहसीलदार ने बताया कि जैसे ही उनको इसकी खबर हुई उनकी टीम इस शादी को रोकने के लिए फौरन घटनास्थल पर पहुंची। 
 
बाद में वरिष्ठ अधिकारियों ने इस शादी को सुरक्षात्मक ढंग से करने की अनुमति दे दी। इसके बाद दूल्हा-दुल्हन सहित घर के बाकी परिजनों को पीपीई किट पहनाया गया और शादी को सुरक्षात्मक ढंग से संपन्न किया गया। शादी के इस वीडियो को एशियन न्यूज एजेंसी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। गौरतलब बात है शादी को कुछ दिनों के लिए टाला भी जा सकता था। एक तरफ जहां रोजाना देश भर से कोरोना के गंभीर मामले सामने आ रहें हैं। ऐसे में लोगों की जान जोखिम में डालकर ये शादी करना बात समझ के परे है। 


यहां मृत्यु होने पर डांस के लिए बुलाई जाती है स्पेशल आइटम गर्ल्स, करती है पोल डांस

यहां मृत्यु होने पर डांस के लिए बुलाई जाती है स्पेशल आइटम गर्ल्स, करती है पोल डांस

अक्सर आपने देखा होगा इंसान के मरने पर मातम का माहौल होता है सब गम में डूबे होते है लेकिन जिसका जन्म हुआ है उसका मरना भी निश्चित है। आज हम आपको ऐसे देश के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर शोक सभा में कॉल गर्ल्स को बुलाया जाता है। मातम की खुशियां मनाई जाती है। 

बुलाई जाती है स्पेशल आइटम गर्ल्स

चीन में लोग मरने पर कॉल गर्ल्स को बुलाते हैं जो शोक सभा में कॉफिन के आस-पास घूमकर डांस करती है। चीन के लोगों का मानना है कि यहां अगर कॉल गर्ल्स को बुलाया जाता है तो लोगों की संख्या अधिक होती है। इससे ऐसा माना जाता है जितनी ज्यादा भीड़ होती है मृतक की आत्मा को शांति मिलती हैं।


ऐसे मिलती है आत्मा को शांति:

भीड़ तो इकट्ठा हो जाती है ले​किन बुर्जुग और बच्चे मौजूद नहीं होते हैं। ऐसा इसलिए वह एडल्ट कंटेंट होता है। इतना ही नहीं कॉल गर्ल्स जीप के ऊपर खड़ें होकर परफॉर्म करती है। चारों और खुशियां मनाई जाती है।