संपत्ति हड़पने के लिए युवक ने अपनी प्रेमिका से करवाई दोस्त की शादी, फिर पढ़कर उड़ जाएगें होश

संपत्ति हड़पने के लिए युवक ने अपनी प्रेमिका से करवाई दोस्त की शादी, फिर पढ़कर उड़ जाएगें होश

एक युवक ने दोस्त की संपत्ति हड़पने के लिए पहले अपनी प्रेमिका से उसकी विवाह करा दी व फिर संपत्ति नाम होने के बाद उसकी मर्डर कर दी. पुलिस ने मुद्दे में मृतक की पत्नी व उसके प्रेमी को अरैस्ट कर लिया है. आरोपियों ने एक अपराध शो देखकर मर्डर की योजना बनाई थी. मुद्दा गाजियाबाद जिले के मुरादनगर की शंकर विहार कॉलोनी का है.

29 मई को शंकर विहार कॉलोनी निवासी 48 वर्षीय अशोक शर्मा का मृत शरीर घर के बाथरूम में पड़ा मिला था. उसकी पत्नी शालू ने बताया कि नहाते समय करंट लगने से आशोक की मृत्यु हो गई, जबकि मृतक के भाइयों ने उसकी मर्डर की संभावना जताई थी. थाना प्रभारी ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर मर्डर करने की पुष्टि हुई. इसके बाद पुलिस ने मृतक की पत्नी व एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ प्रारम्भ कर दी. दोनों ने खुलासा किया कि संपत्ति हड़पने के लिए अशोक की मर्डर की गई थी. थाना प्रभारी ने बताया कि पत्नी शालू निवासी जिला सुल्तानपुर व कपिल कुमार निवासी डासना को अरैस्ट कर लिया गया है.

प्रेमिका से विवाह कराई

आरोपी कपिल कुमार टैक्सी चलाने का कार्य करता है, जबकि सुल्तानपुर निवासी शालू के पहले पति की सड़क हादसे में मृत्यु हो गई थी. पति की मृत्यु के बाद और कार्य की तलाश में दिल्ली आ गई. इसी बीच उसकी मुलाकात कपिल से हो गई. कपिल व शालू के बीच नजदीकी बहुत ज्यादा बढ़ गईं. इधर, कपिल कुमार दिल्ली मेरठ मार्ग से गुजरता था तो वह मुरादनगर थाने के सामने स्थित एक होटल पर रुककर चाय-नाश्ता करता था. इसी बीच उसकी मुलाकात होटल संचालक के भाई अशोक शर्मा से हो गई. अशोक दिव्यांग था व उसकी विवाह भी नहीं हुई थी. उसने अशोक से विवाह कराने की बात कही. दो वर्ष पहले कपिल ने अपनी प्रेमिका शालू से अशोक शर्मा की विवाह करा दी.

क्राइम शो देखकर योजना बनाई

शादी होने के बाद कपिल का अशोक शर्मा के मकान में आना-जाना प्रारम्भ हो गया. हालांकि परिजनों के एतराज पर कपिल ने आना छोड़ दिया व डासना में चाय की दुकान खोल ली. इसके बाद शालू बहाना बनाकर कपिल से मिलने डासना जाने लगी. अशोक शर्मा इसका विरोध करता था, जिसके बाद एक अपराध शो देखकर कपिल व शालू ने अशोक की मर्डर की योजना बनाई.

तकिए से गला दबाकर मर्डर

28 मई की रात आरोपियों ने अशोक की तकिए से गला दबाकर मर्डर कर दी. प्रातः काल मृत शरीर बाथरूम में डाल दिया व करंट लगने से मृत्यु की चर्चा फैला दी. जाँच में पता चला है कि अशोक ने दिल्ली-मेरठ मार्ग पर स्थित दुकान पत्नी के नाम कर दी थी. मकान के भी नाम होने की बात चल रही थी.