SCCL की कोयला खदान में हो गया विस्फोट, हादसे में इतने मजदूरों की हुई भयावह मृत्यु

SCCL की कोयला खदान में हो गया विस्फोट, हादसे में इतने मजदूरों की हुई भयावह मृत्यु

तेलंगाना ( Telangana ) के पेद्दापल्ली जिले में मंगलवार को सरकारी स्वामित्व वाली सिंगरेनी कोलियरीज कंपनी लिमिटेड ( Singareni Collieries Company Limited ) ( SCCL ) की कोयला खदान में विस्फोट हो गया.

इस हादसे में चार मजदूरों की भयावह मृत्यु ( workers died ) हो गई. जबकि तीन अन्य घायल ( injured ) हो गए हैं. पुलिस के मुताबिक यह एक्सीडेंट ( explosion ) सिंगरेनी के रामागुंडम रीजन-3 की ओपन कास्ट माइन-1 में हुआ.


तेलंगाना स्थित रामागुंडम ( Ramagundam ) के पुलिस आयुक्त वी सत्यनारायण ने मीडिया को बताया कि यहां पर चट्टानों को तोड़ने के लिए विस्फोटक रखा गया था. जो दुर्घटनावश फट गया. इस हादसे में चार मजदूरों की मृत्यु हो गई जबकि तीन अन्य घायल हो गए.

विस्फोट में मारे गए लोगों की पहचान राजेश, अंजैयाह, प्रवीण व कुमार के रूप में की गई है. ये सभी खदान में संविदा पर कार्य कर रहे थे. पुलिस ने सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए गोदावरीखानी में स्थित सिंगरेनी अस्पताल भेज दिया है. दो घायलों को गोदावरीखानी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीं, तीसरे को करीमनगर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

अधिकारियों ने बोला कि मजदूरों का एक समूह खदान पर बड़े बोल्डर (पत्थर) को तोड़ने के लिए डेटोनेटर ( Detonator ) लगा रहा था. इसी दौरान डेटोनेटर अपने निर्धारित समय से पहले ही विस्फोट कर गया व यह एक्सीडेंट घट गई. खान सुरक्षा महानिदेशक के नेतृत्व में एक टीम घटना की जाँच के लिए आने वाले दिनों में साइट का निरीक्षण करेगी.

इस बीच, विभिन्न ट्रेड यूनियन के नेताओं ने अस्पताल में घायलों से मुलाकात की. इन लोगों द्वारा मृतकों के परिवारों को एक करोड़ रुपये व घायलों को 50 लाख रुपये देने की मांग भी की गई.


गौरतलब है कि सिंगरेनी कोलियरीज कंपनी लिमिटेड ( SCCL ) सरकार द्वारा संचालित एक कोयला खनन कंपनी है. इसका स्वामित्व तेलंगाना व केन्द्र सरकार ( Centre Govt ) के पास 51:49 के अनुपात में है.

कंपनी की वेबसाइट के अनुसार सिंगरेनी कोयला भंडार, तेलंगाना में 350 किमी की प्राणहिता- गोदावरी घाटी में फैला हुआ है. यह एक सिद्ध भूगर्भीय भंडार के साथ 8,791 मिलियन टन कोयले का विशाल भंडार है. SCCL में वर्तमान में करीब 48,900 लोग कार्य करते हैं. कंपनी तेलंगाना के चार जिलों में 18 खुली व 27 भूमिगत खदानों का संचालन कर रही है.