आरोपी ने फेसबुक पर बने दोस्त कुख्यात बदमाश के कारण किया यह कांड

आरोपी ने फेसबुक पर बने दोस्त कुख्यात बदमाश के कारण किया यह कांड

हाल ही में दिल्ली के रोहिणी जिले के स्पेशल स्टाफ ने अमन विहार में हुई युवक की हत्या के मामले का खुलासा कर दिया है. उन्होंने इस मामले में मृतक के बचपन के दोस्त लीलू उर्फ नितिन को बीते बुधवार को गिरफ्तार कर लिया है.

खबरों के मुताबिक आरोपी ने फेसबुक पर बने दोस्त कुख्यात बदमाश दिनेश कराला के कहने पर इस हत्या को अंजाम दिया था. वहीं पुलिस का कहना है उन्हें घटना के पीछे जेल में बंद जितेंद्र गोगी गिरोह का हाथ लगा था. जी दरअसल बीते 2 जुलाई को रामा विहार इलाके में घर से प्लॉट पर जा रहे कार सवार नितिन पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी गई और हत्या हो गई थी.

वहीं उस समय से पुलिस इसे गैंगवार मानकर चल रही थी लेकिन मामला कुछ और ही सामने आया. जी दरअसल जब जांच हुई तो सामने आया था कि मृतक का बड़ा भाई टिल्लू गिरोह से जुड़ा हुआ है. उसके बाद एसीपी स्पेशल स्टाफ ब्रह्मजीत सिंह की देखरेख में इंस्पेक्टर ईश्वर सिंह की टीम गठित की गई. वहीं उसके बाद यह सामने आया कि वारदात के तार जेल से जुड़े हुए हैं. फिर फुटेज खंगालने पर कराला गांव का लीलू उर्फ नितिन माथुर दिखाई दिया. पुलिस ने जेल से जुड़े सूत्रों से पता किया कि लीलू ने भी फायरिंग की थी. यह सब जानने के बाद उन्होंने आरोपी को रोहिणी सेक्टर-24 इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया. उसने पूछताछ में कहा, 'वह आरटीवी चलाता था, लेकिन कर्मवीर नाम के पहलवान ने उसे जान से मारने की धमकी दी तो उसने काम बंद कर दिया.'

उसने बताया कि अपनी सुरक्षा के लिए उसने फेसबुक के जरिये जेल में बंद गांव के ही कुख्यात बदमाश दिनेश कराला से बात की. उसके बाद वह उनके साथ ही मिल गया. बाद में गोगी से दोस्ती की वजह से दिनेश कराला ने लीलू को यह हत्या करने के लिए कहा और आरोपी ने ही नितिन और उसके बड़े भाई नवीन की फोटो गोगी को भेजी थी. उसके बाद उसके पास कार सवार युवक पहुंचे, जिनके साथ मिलकर उसने हत्या को अंजाम दे दिया.