अमेठी में अज्ञात हमलावरों ने किसान नेता को गोली मारकर किया मर्डर, हत्याकांड से दहशत में पूरा क्षेत्र 

अमेठी में अज्ञात हमलावरों ने किसान नेता को गोली मारकर किया मर्डर, हत्याकांड से दहशत में पूरा क्षेत्र 

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में अज्ञात हमलावरों ने किसान नेता प्रमोद मिश्रा की गोली मारकर मर्डर कर दी। शनिवार देर शाम हुए इस हत्याकांड से पूरा क्षेत्र दहशत में है। प्रमोद मिश्रा कभी कांग्रेस से जुड़े थे। पुलिस मुद्दे की जाँच कर रही है। वारदात के बाद पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग ने घटनास्थल का जायजा लिया।

पुलिस के मुताबिक लोनियापुर के रहने वाले प्रमोद मिश्रा भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के जिला अध्यक्ष थे। वह शनिवार शाम अपनी दुकान से घर लौट रहे थे। तभी प्राथमिक विद्यालय के पास पहले से ही घात लगाए बैठे हमलावरों ने उन पर ताबड़-तोड़ गोलियां बरसा दीं। मौका पाकर हत्यारोपी फरार हो गए। गोलियों की आवाज सुन ग्रामीण दौड़े तो देखा कि प्रमोद खून से लथपथ जमीन पर पड़े हैं। लोग उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले गए, लेकिन उनकी स्थिति बहुत गम्भीर थी। जिसके बाद उन्हें सुल्तानपुर जिला अस्पताल रेफर कर दिया। प्रमोद अमेठी कोतवाली क्षेत्र के श्रीरामपुर मजरे उमापुर गाना पट्टी के रहने वाले थे।

सुल्तानपुर जिला अस्पताल में डॉक्टरों से उनका उपचार प्रारम्भ किया, लेकिन वे प्रमोद मिश्रा की जान नहीं बचा पाए। हत्याकांड के बाद घटनास्थनल पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। मुद्दे की गंभीरता को देखते हुए खुद पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग घटनास्थल का जायजा लेने पहुंचीं। प्रमोद की मर्डर क्यों की गई इस बात का अब तक खुलासा नहीं हो सका है लेकिन, पुरानी रंजिश को मर्डर से जोड़कर देखा जा रहा है। पुलिस सारे मुद्दे की जाँच कर रही है।  

अमेठी एसपी ख्याति गर्ग ने बताया कि जिले के किसान नेता प्रमोद मिश्रा की मर्डर हुई। उनकी पीठ पर गोली मारी गई है। वह किसान यूनियन के लीडर थे। गोली लगने से उनकी मृत्यु हो गई है। पुलिस हर पहलु से इस केस की जाँच कर रही है।