उत्तर प्रदेश में इतने प्रवासी श्रमिकों में पाए गए कोरोना वायरस के लक्षण, जाने इतने हुए स्वस्थ

उत्तर प्रदेश में इतने प्रवासी श्रमिकों में पाए गए कोरोना वायरस के लक्षण, जाने इतने हुए स्वस्थ

उत्तर प्रदेश में 764 प्रवासी श्रमिकों में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं । इनके नमूने लेकर जाँच के लिए भेजे गए हैं. आशा बहुएं लगातार प्रवासी श्रमिकों की ट्रैकिंग कर रहीं हैं. करीब अब तक 658982 श्रमिकों की ट्रैकिंग कर चुकी हैं । 

प्रवसी श्रमिकों में संक्रमण का फीसदी बहुत ज्यादा ज़्यादा है. 60 वर्ष के ऊपर बुज़ुर्गों में संक्रमण का फीसदी बहुत ज्यादा कार्य हुआ है. एक माह पहले 60 वर्ष के ऊपर के बुज़ुर्ग 9 फीसदी के हिसाब से संक्रमित हो रहे थे, अब वही फीसदी 6.5 रह गया है । पिछले 24 घंटों में 263 कोरोना संक्रमितों के नए मुद्दे सामने आए हैं  इस तरह अब तक सारे प्रदेश भर में 5778 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. 3238 मरीज़ डिस्चार्ज हो चुके हैं ।  

यह जानकारी चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को अपर मुख्य सचिव गृह और सूचना अवनीश अवस्थी के साथ एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी । श्री प्रसाद ने बताया कि पीछे 24 घंटों में 7249 टेस्टिंग हुईं हैं । 928 पूल टेस्टिंग के लिए लगाए गए । कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को चिन्हित करने में आरोग्य सेतु ऍप का बखूबी प्रयोग किया जा रहा है । संक्रामक रोग के कण्ट्रोल रूम से भी 29010 लोगों को फ़ोन कॉल की गईं हैं । उन्होनें बताया कि सर्विलांस की टीमें कन्टेनमेंट क्षेत्र में साढ़े तीन करोड़ लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी ले चुकीं हैं । प्रवासी श्रमिकों को होम क्वारेंटीन रखने में, ग्राम व मोहल्ला निगरानी समिति की बड़ी जिम्मेदारी है .