पाक  के युवा क्रिकेटर हैदर अली ने अंडर-19 वर्ल्ड कप में रोहित शर्मा को लेकर कही यह बड़ी बात

पाक  के युवा क्रिकेटर हैदर अली ने अंडर-19 वर्ल्ड कप में रोहित शर्मा को लेकर कही यह बड़ी बात

पाक (Pakistan) के युवा क्रिकेटर हैदर अली (Haider Ali) ने अंडर-19 वर्ल्ड कप में सुर्खियां बटोरी थीं। अंडर-19 वर्ल्ड कप में अपनी परफॉर्मेंस के दम पर हैदर ने इंग्लैंड दौरे के लिए पाक क्रिकेट टीम में अपनी स्थान बनाई। 

इंटरनेशनल क्रिकेट में सिर्फ एक मैच खेलने के बाद ही हैदर अली की तुलना रोहित शर्मा (Rohit Sharma) से की जाने लगी है हाल ही में हैदर अली ने रोहित शर्मा को अपना भूमिका मॉडल बताया था। भारतीय सलामी बल्लेबाज की क्लीन हिटिंग, बड़ी पारियों से इंप्रेस हैदर ने जून में रोहित शर्मा की जमकर तारीफ की थी। लेकिन रोहित शर्मा की तारीफ करने वाले हैदर अली का बोलना है कि मैं असहज महसूस करता हूं, जब कोई भी मेरी तुलना रोहित शर्मा से करता है।

हैदर अली ने कहा, ''रोल मॉडल की बात करें तो मेरे रोहित शर्मा है। मैं उन्हें बतौर खिलाड़ी पसंद करता हूं। मैं उन्हीं की तरह टॉप ऑर्डर में आक्रामक आरंभ करना चाहता हूं, उन्हीं तरह बॉल को हिट करना चाहता हूं। वह तीनों फॉर्मेट के खिलाड़ी हैं व वह तीनों फॉर्मेट में अपने हिसाब से खेल को स्वीकार करते हैं। ''

हैदर ने हाल ही में इंग्लैंड दौरे पर टी-20 अंतर्राष्ट्रीय में पदार्पण किया था। 20 वर्ष के हैदर ने इंग्लैंड के विरूद्ध ओल्ड ट्रैफर्ड में इसी वर्ष विस्फोटक अर्धशतक जड़ा था, जिसके बाद उनके बैटिंग स्टाइल की तुलना रोहित शर्मा से होने लगी थी। हालांकि, यह युवा खिलाड़ी रोहित के साथ अपनी तुलना को ठीक नहीं मानते। उनका बोलना है कि इससे वह असहज महसूस करते हैं। हैदर के मुताबिक, अभी उन्हें शीर्ष बल्लेबाज के रूप में पहचाने बनाने के लिए बहुत लंबा सफर तय करना है।
उन्होंने कहा, ''वह एक शीर्ष बल्लेबाज है व जब कोई हमारी तुलना करता है तो मैं असहज महसूस करता हूं। हमारी कोई तुलना नहीं है। वह पहले ही इतना कुछ हासिल कर चुके हैं। '' इस खिलाड़ी ने बोला कि उन्होंने कई बड़े बल्लेबाजों के वीडियो देख कर खेल को सीखा है। उन्हें रोहित शर्मा की बल्लेबाजी देखना पसंद है।



हैदर का लक्ष्य पाक के लिए तीनों फॉर्मेट में खेलने का है। उन्होंने बोला "मैं तीनों ही फॉर्मेट में प्रदर्शन कर सकता हूं, क्योंकि मुझे सभी फॉर्मेट खेलने में मजा आता है। मेरा फर्स्टक्लास सीजन बहुत ज्यादा अच्छा रहा था व हमारे कोच मोहम्मद वसीम ने मेरा बहुत ज्यादा अच्छा मार्गदर्शन किया है। मुझे हमेशा से ही ऐसा लगता है कि अगर आपके कोच आत्मविश्वास दिलाते हैं तो इससे बहुत ज्यादा बड़ा फर्क पड़ता है। एक खिलाड़ी में आत्मविश्वास बढ़ता है व वह अपनी क्षमता के मुताबिक पूरा प्रदर्शन कर पाता है।