इस खिलाड़ी ने बेंगलूरु में ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध खेले गए तीसरे वनडे में अपना 29वां शतक जड़ा

इस खिलाड़ी ने बेंगलूरु में ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध खेले गए तीसरे वनडे में अपना 29वां शतक जड़ा

रोहित शर्मा ने बेंगलूरु में ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध खेले गए तीसरे वनडे में अपना 29वां शतक जड़ा. इसी के साथ एकदिवीय क्रिकेट में शतक लगाने के मुद्दे में वह चौथे जगह पर आ गए. इस पारी के दौरान उन्होंने इस फॉर्मेट में अपने 9000 रन भी सारे किए. 119 रनों की शतकीय पारी के दौरान उन्होंने आठ छक्के भी जड़े. इसी के साथ वह छक्कों के बेताज बादशाह बन गए. वह अपने डेब्यू के बाद से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए.

क्रिस गेल को छोड़ा पीछे

रोहित शर्मा ने 23 जून 2007 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट का आगाज किया था. इस दौरान उन्होंने किसी भी अन्य बल्लेबाज से ज्यादा सिक्स लगाए हैं. अपनी पारी का आठवां सिक्स जैसे ही उन्होंने लगाया, वह न सिर्फ वनडे अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट को मिलाकर भी सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए. इस मुद्दे में उन्होंने विंडीज के बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल को पीछे छोड़ा. दाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज रोहित ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण के बाद से वनडे में अब तक कुल 243 छक्के लगाए हैं, जबकि क्रिस गेल ने 242 छक्के लगाए हैं. अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में डेब्यू के बाद से सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड भी इससे पहले क्रिस गेल के ही नाम था. रोहित ने रविवार को इस मुद्दे में भी उन्हें पीछे छोड़ दिया. अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में रोहित के अब 415 छक्के हो गए हैं, जबकि क्रिस गेल के 413 हैं. ये आंकड़े भी रोहित के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण के बाद से ही हैं.

रोहित-विराट शतकीय साझेदारी के मुद्दे में पहुंचे दूसरे पर

रविवार को ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध जीत के दौरान रोहित शर्मा व विराट कोहली ने शतकीय साझेदारी निभाई. इसी के साथ वनडे क्रिकेट में रनों का पीछा करते हुए शतकीय साझेदारी निभाने के मुद्दे में यह जोड़ी दूसरे जगह पर पहुंच गई. इस जोड़ी ने रनों का पीछा करते हुए 11वीं बार शतकीय साझेदारी निभाई. इस मुद्दे में इस जोड़ी ने ऑस्ट्रेलिया के ही पूर्व ओपनर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट व मैथ्यू हेडेन की जोड़ी को पीछे छोड़ा. इन दोनों ने रनों का पीछा करते हुए 10 बार शतकीय साझेदारी निभाई थी. रनों का पीछा करते हुए सबसे ज्यादा शतकीय साझेदारी निभाने का रिकॉर्ड भारतीय जोड़ी सौरव गांगुली व सचिन तेंदुलकर के नाम है. इन दोनों की जोड़ी ने 17 बार यह कारनामा किया है.