भारत व न्यूजीलैंड के बीच पहला टेस्ट वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर होगा

भारत व न्यूजीलैंड के बीच पहला टेस्ट  वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर होगा

भारत व न्यूजीलैंड के बीच पहला टेस्ट शुक्रवार से वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर खेला जाना है. टीम इंडिया अपने न्यूजीलैंड दौरे में टी20 सीरीज में 5-0 से फतह हासिल कर चुकी है, जबकि वनडे सीरीज में उसे 0-3 से पराजय झेलनी पड़ी है. ऐसे में टीम इंडिया की प्रयास टेस्ट सीरीज में

जीत हासिल कर न्यूजीलैंड दौरा खत्म करने की होगी. टेस्ट सीरीज में हिंदुस्तान का पलड़ा भारी भी माना जा रहा है. आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के प्रारम्भ होने के बाद से टीम इंडिया ने एक भी मैच नहीं गंवाया है. वहीं, न्यूजीलैंड सिर्फ एक टेस्ट ही जीत पाई है. हालांकि, इस टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया को एक भारतीय से बेहद सतर्क रहना होगा, क्योंकि वह उन्हें मात देने के लिए पूरी तरह से कमर कस चुका है. जी हां, हम बात कर रहे हैं, न्यूजीलैंड टेस्ट टीम के बाएं हाथ के स्पिनर एजाज पटेल. एजाज भारतीय हैं. उनका जन्म 21 अक्टूबर 1988 को बॉम्बे (अब मुंबई) में हुआ था.

ऑकलैंड में पढ़े-बढ़े एजाज यूनुस पटेल (Ajaz Yunus Patel) ने कभी भी क्रिकेटर बनने का सपना नहीं देखा था. दो वर्ष पहले न्यूजीलैंड हेराल्ड को दिए इंटरव्यू में एजाज ने बताया था, ‘मेरे व मेरी दो बहनों के साथ माता-पिता जीवनयापन के लिए मुंबई से ऑकलैंड आए ही थे. पिता यूनुस पेशे से रेफ्रिजरेटर मैकेनिक थे. उन्होंने एक दुकान खोली थी. व मैं नए देश में नयी जिंदगी का अभ्यस्त हो रहा था. इस प्रकार, क्रिकेट मेरे लिए बाद का विचार था. मैं सिर्फ घर व स्कूल का आदमी था. गलियों या इर्द-गिर्द के मैदान में मेरे पास खेल खेलने के लिए बहुत सारे दोस्त नहीं थे. हम नए देश में सिर्फ अपने पैर जमा रहे थे. जब मैं मुंबई में था, तब अपने चचेरे भाई व स्कूल में दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलता था.’

हालांकि, जब उनकी चाची ने हस्तक्षेप किया व उनका अपने बच्चों के साथ एक क्रिकेट क्लब में दाखिला करा दिया. एजाज बाएं हाथ के गेंदबाज हैं व अपनी आयु के हिसाब से बहुत ज्यादा लंबे थे. वे एक तेज गेंदबाज बनने के लिए पूरी तरह से तैयार थे. उनकी मेहनत रंग लाई. वे अपने आयु वर्ग में बहुत ज्यादा पास रहे, लेकिन अंडर-19 वर्ल्ड कप में महत्व नहीं दिए जाने के बाद उन्होंने ऑकलैंड अंडर19 के कोच व न्यूजीलैंड के पूर्व ऑफ स्पिनर दीपक पटेल से खुलकर वार्ता की.