चौथा टी20 जीतने के लिए भारतीय टीम का ऐलान, इस खिलाड़ी की टीम मे हो सकती है वापसी

चौथा टी20 जीतने के लिए भारतीय टीम का ऐलान, इस खिलाड़ी की टीम मे हो सकती है वापसी

न्यूजीलैंड में टीम इंडिया (Indian Cricket Team) ने अबतक जोरदार प्रदर्शन किया है। पांच मैचों की टी20 सीरीज के पहले तीन मैच जीत भारतीय टीम ने सीरीज में अजेय बढ़त हासिल कर ली है।

 हालांकि विराट एंड कंपनी का मकसद चौथे टी20 में भी जीत हासिल करना होगा। टीम इंडिया के लिए ये इतना सरल नहीं होने वाला क्योंकि उसने पिछले तीन मैचों में कई गलतियां की हैं, जिसमें सुधार करना महत्वपूर्ण है। वेलिंग्टन में अगर टीम इंडिया ने इन कमजोरियों पर कार्य नहीं किया तो चौथा टी20 न्यूजीलैंड जीत सकता है।

गेंदबाजी रही है कमजोर
दूसरे टी20 को अगर छोड़ दें तो टीम इंडिया ने बाकी के दो मैचों में बेहद बेकार गेंदबाजी की है। पहले टी20 में टीम इंडिया ने 203 रन लुटा दिये, वहीं हैमिल्टन में भारतीय टीम 179 रनों का स्कोर नहीं बचा सकी। मैच सुपरओवर तक गया व रोहित शर्मा के हैरतअंगेज प्रदर्शन से टीम इंडिया ने किसी तरह मैच जीत लिया। भारतीय गेंदबाजों के प्रदर्शन पर नजर डालें तो रवींद्र जडेजा के अतिरिक्त सभी अन्य गेंदबाज औसत नजर आए हैं। शार्दुल ठाकुर का इकॉनमी रेट 10.75 रहा है, शिवम दुबे का इकॉनमी रेट 9 रन प्रति ओवर रहा है। बुमराह (Jasprit Bumrah) ने भी 8 रन प्रति ओवर रन लुटाए हैं, चहल का इकॉनमी रेट 8.41 रहा है। शमी ने भी 8.91 रन प्रति ओवर रन दिए हैं। साफ है टीम इंडिया के सभी गेंदबाज महंगे साबित हुए हैं, जिसमें सुधार करना बेहद महत्वपूर्ण है।

टीम इंडिया की बेकार फील्डिंग- तीसरे टी20 मैच में टीम इंडिया ने बेकार फील्डिंग की हदें ही तोड़ दी। हैमिल्टन में भारतीय टीम ने बेकार फील्डिंग कर 22 रन लुटाए। टीम इंडिया ने तीन कैच छोड़े, जिसमें विराट कोहली (Virat Kohli) व रवींद्र जडेजा ने बेहद ही सरल कैच टपकाए। अगर ये कैच लपके जाते तो टीम इंडिया सुपरओवर से पहले ही मैच जीत सकती थी।
 

विराट कोहली रंग में नहीं- टीम इंडिया ने तीन टी20 मैच जीते हैं लेकिन भारतीय कैप्टन विराट कोहली (Virat Kohli) का बल्ला चुपचाप है। विराट कोहली ने इस सीरीज में महज 31.33 के औसत से 94 रन ही बनाए हैं। वर्ल्ड क्रिकेट में जो विराट का कद है, उसके मुताबिक ये बेहद ही औसत प्रदर्शन है। हैमिल्टन में टीम इंडिया एक समय तकरीबन 10 के रन रेट से स्कोर आगे बढ़ा रही थी लेकिन केएल राहुल का विकेट गिरने के बाद हिंदुस्तान सिर्फ 179 रनों तक पहुंच सका, जबकि एक समय उसका स्कोर 200 पार जाता दिख रहा था।

बता दें वेलिंग्टन के मैदान पर न्यूजीलैंड का रिकॉर्ड गजब है। इस मैदान पर उसने 11 में से 8 मैच जीते हैं। इस मैदान पर न्यूजीलैंड ने अपने पिछले 6 मैच जीते हैं। वहीं टीम इंडिया वेलिंग्टन के वेस्टपैक स्टेडियम में दो मैच खेली है व दोनों में उसे पराजय मिली है। ऐसे में साफ है कि चौथे मैच में जीत हासिल करने के लिए टीम इंडिया को अपना बेस्ट प्रदर्शन करना महत्वपूर्ण होगा।