वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर तेज हवाएं को चलते मैच हो सकता है बंद

वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर  तेज हवाएं को चलते मैच हो सकता है बंद

 टी20 सीरीज टीम इंडिया ने जीती, वनडे में न्यूजीलैंड ने मारी बाजी। अब कौन जीतेगा टेस्ट सीरीज? इसका जवाब 21 फरवरी से मिलना प्रारम्भ होगा जब वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर केन विलियमसन व विराट कोहली (India vs New Zealand) की सेना आपस

में भिड़ेंगी। इसमें कोई संदेह नहीं कि भारतीय टीम टेस्ट फॉर्मेट में बहुत मजबूत है। वो संसार की नंबर 1 टीम है, जिसके बाद अच्छे गेंदबाजों व बल्लेबाजों की पूरी की पूरी फौज है। हालांकि न्यूजीलैंड को उसकी भूमि पर हराना उसके लिए किसी चुनौती से कम नहीं होगा, खासकर कि वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर।


बेसिन रिजर्व पर हवा से लड़ना होगा!
वेलिंगटन टेस्ट में भारतीय टीम को सिर्फ न्यूजीलैंड से नहीं, बल्कि बेसिन रिजर्व पर चलने वाली हवाओं से भी लड़ना होगा। वेलिंगटन (Wellington) संसार का सबसे हवादार शहर है। वहां वर्ष के 178 दिन 63 किमी। /घंटा की गति से हवाएं चलती हैं। यही हवा टीम इंडिया के लिए कठिन का कारण बन सकती है। बेसिन रिजर्व में हवा से अकसर गेंदबाजों को मदद मिलती है। न्यूजीलैंड को इस मैदान पर खेलने की आदत है लेकिन भारतीय टीम इसकी आदी नहीं हैं। शायद यही वजह है कि हिंदुस्तान ने बेसिन रिजर्व में सिर्फ एक टेस्ट मैच जीता है, वो भी 1968 में मतलब 52 वर्ष पहले।


न्यूजीलैंड में हवा की वजह से क्या होता है?
एक ओर जहां पूरी संसार में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम अकसर ज्यादा रन बनाती है, वहीं दूसरी ओर न्यूजीलैंड में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम की शामत आ जाती है व ये सब होता है तेज हवा चलने की वजह से। पिछले चार वर्षों में न्यूजीलैंड में पहली पारी का औसत स्कोर महज 276 रन है, जो कि संसार में सबसे कम है। वहीं दूसरी पारी में न्यूजीलैंड में औसतन 400 रन बनते हैं जो कि पूरी संसार में सबसे ज्यादा है। मतलब दूसरी पारी खेलने वाली टीम की मैच पर पकड़ रहती है।



न्यूजीलैंड में खेले गए पिछले 19 टेस्ट मैचों की बात करें तो पहले दिन बल्लेबाजी का औसत महज 30.39 है व दूसरे दिन ये बढ़कर 39.44 हो जाता है। पहले बल्लेबाजी करने वाली टीमें 8 बार पहले ही दिन आउट हुई हैं। ये आंकड़े इस बात की तस्दीक करते हैं कि पहले बल्लेबाजी करना न्यूजीलैंड में पैर कुल्हाड़ी पर मारने जैसा है। पहली पारी में तेज गेंदबाज बेहद ही खतरनाक साबित होते हैं। न्यूजीलैंड में तेज गेंदबाजों ने पहली पारी में 26.08 के औसत से विकेट लिये हैं। वहीं 17 में से 8 बार एक पारी में पांच विकेट लिये हैं।
 

 



विराट को पहले बल्लेबाजी पसंद
अब परेशानी यहां ये है कि विराट कोहली (Virat Kohli) को विदेशी भूमि पर टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करना ही पसंद है। उन्होंने विदेशी भूमि पर पहले गेंदबाजी करते हुए कभी मैच नहीं जीता है। विराट की कप्तानी में भारतीय टीम ने 11 टेस्ट मैचों में पहले गेंदबाजी की व 8 में उसे पराजय मिली है जबकि 3 मैच ड्रॉ रहे। न्यूजीलैंड में पहले गेंदबाजी करना ठीक रहता है, अगर विराट कोहली टॉस जीतते हैं तो उन्हें यही निर्णय करना चाहिए। शायद पहले गेंदबाजी करते हुए उन्हें पहली बार विदेश में जीत मिल जाए।