2 वर्ष से नहीं खेला है कोई इंटरनेशनल वनडे व टी20 मैच, फिर भी है सबसे सफल गेंदबाज

 2 वर्ष से नहीं खेला है कोई इंटरनेशनल वनडे व टी20 मैच, फिर भी है सबसे सफल गेंदबाज

भारतीय टीम (Indian Team) के स्टार स्पिनर आर अश्विन (R Ashwin) करीब 2 वर्ष से कोई इंटरनेशनल वनडे व टी20 मैच नहीं खेला है, लेकिन इसके बावजूद भी अश्विन दशक के सबसे बेहतरीन गेंदबाज बनकर उभरे हैं.

 अश्विन ने पिछले 10 वर्षों में तीनों फॉर्मेट (टेस्ट, वनडे व टी20) को मिलाकर इंटरनेशनल मैचों में 564 विकेट झटके हैं व इसी वजह से वो दशक के सबसे बेहतरीन गेंदबाज बने हैं. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि अश्विन ने 9 जुलाई 2017 के बाद से कोई वनडे व टी20 नहीं खेला है.

 

इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन हैं दूसरे नंबर पर

अश्विन के बाद दूसरे नंबर पर इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन हैं, जो अश्विन से 29 विकेट पीछे हैं. पिछले एक दशक में अश्विन ने अपनी फिरकी में बड़े से बड़े बल्लेबाजों को फंसाया है. अश्विन ने पिछले 10 वर्षों में 564 विकेट अपने नाम किए हैं तो वहीं दूसरे नंबर के जेम्स एंडरसन ने 535 विकेट लिए हैं. तीसरे नंबर पर इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड हैं, जिनके नाम 525 विकेट हैं. न्यूजीलैंड के टिम साउदी (472) चौथे जगह पर हैं. वहीं न्यूजीलैंड के ट्रेंट बोल्ट (458) पांचवे जगह पर है.

2017 में खेला था आखिरी वनडे व टी20

उन्होंने हिंदुस्तान के लिए अपना अंतिम वनडे मैच 30 जून, 2017 को वेस्टइंडीज के विरूद्ध नॉर्थ साउंड में खेला था, जबकि अंतिम टी20 इंटरनैशनल मैच 9 जुलाई, 2017 को वेस्ट इंडीज के विरूद्ध किंगस्टन में खेला था. 1 जनवरी 2010 से लेकर अब तक वह 70 टेस्ट मैचों में 362 विकेट ले चुके हैं जो हिंदुस्तान की ओर से सर्वाधिक है. इसी अ‌वधि मेंउन्होंने 111 वनडे में 150 विकेट लिए हैं.

 

गांगुली ने भी की है अश्विन की तारीफ

अश्विन की इस उपलब्धि को लेकर पूर्व भारतीय कैप्टन व बीसीसीआई के प्रेजिडेंट सौरभ गांगुली ने भी उनकी तारीफ की है. गांगुली ने अश्विन के लिए एक बेहद खास ट्विटर हैंडल से लिखा है है. गांगुली ने आईसीसी के इंस्टाग्राम एकाउंट से पोस्ट किए गए मैसेज के स्क्रीनशॉट ट्विटर हैंडल से लिखा है है, जिसमें बताया गया है कि 564 विकेटों के साथ अश्विन इस दशक के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं. सौरभ ने लिखा है कि दशक में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी रविचंद्रन अश्विन क्या शानदार कार्य अभी अभी अहसास हुआ कि कभी-कभी शानदार कार्य भी अनदेखा रह जाता है.