मोहम्मद शमी ने आखिरी ओवर में पलटा मैच, लिए इतने विकेट

मोहम्मद शमी ने आखिरी ओवर में पलटा मैच, लिए इतने विकेट

न्यूजीलैंड के विरूद्ध टी20 सीरीज में टीम इंडिया का शानदार प्रदर्शन जारी है। टीम इंडिया ने अबतक चारों टी20 मैचों में जीत दर्ज की है। हैमिल्टन व वेलिंगटन टी20 में तो उसने सुपर ओवर में मैच जीते।

टीम इंडिया ने इन दोनों ही मुकाबलों में आखिरी ओवरों में वापसी की। जिसके बाद खेल सुपर ओवर तक गया व टीम इंडिया ने मैच जीता। आखिरी ओवर में टीम इंडिया की वापसी पर युजवेंद्र चहल ने अपने खास शो में मोहम्मद शमी व शार्दुल ठाकुर से वार्ता की। चहल ने दोनों से आखिरी ओवरों में इनकी कामयाबी का राज पूछा।

शमी बोले- पराजय का भय नहीं थायुजवेंद्र चहल ने शो की आरंभ में बोला कि वो अब चहल टीवी का नाम बदलकर चहल सुपर ओवर टीवी करेंगे। इसके बाद चहल ने शमी से पूछा, 'हैमिल्टन में पहली गेंद पर छक्का लगा, उसके बाद 5 रन बचाने थे तो दिमाग में क्या चल रहा था?' शमी ने जवाब दिया, 'उस समय दिमाग में कुछ नहीं चल रहा था, ओवर से पहले अच्छी यॉर्कर गेंद फेंकने की योजना बनाई थी, प्रयास की लेकिन गेंद हाथ से छूट गई। उसके बाद मेरे पास खोने के लिए कुछ नहीं था। मैंने सोचा आगे की गेंद पर रन लग गए हैं तो क्यों ना बाउंसर फेंकी जाए। इसके बाद जैसे ही विलियमसन आउट हो गए तो लगा कि हां अब छोटी गेंद फेंकना ही ठीक रहेगा। दो गेंद खाली गई, इसके बाद आखिरी गेंद पर एक ही विकल्प था उसे विकेट पर फेंकना, क्योंकि वो वैसे ही एक रन ले लेते। '


शार्दुल को मिली शमी से प्रेरणा
शमी से सवाल के बाद युजवेंद्र चहल ने शार्दुल ठाकुर से सुपर ओवर के दौरान उनकी सोच पर सवाल किया। उन्होंने पूछा, 'जब आपने ओवर के बीच में नकल गेंद फेंकी व आखिरी ओवर में दिमाग में कितना दबाव था?' इस पर शार्दुल ठाकुर ने जवाब दिया- दबाव तो था लेकिन मैं पहली गेंद पर ही विकेट लेना चाहता था, क्योंकि बल्लेबाज पहली ही गेंद पर छक्का या चौका मारकर मैच को समाप्त करने की सोचता है। आइडिया यही था कि स्लोअर गेंद खेलकर उसे बड़ा शॉट खिलाएं व उसने वही किया व वो आउट हो गया। दूसरी गेंद पर जब चौका लगा तो मैंने सोचा कि ऐसे मौकों पर ऐसा होता रहता है व उसके बाद भी उम्मीद हारनी नहीं है। मैंने शमी भाई के ओवर में देखा था कि पहली गेंद पर छक्का लगने के बाद उन्होंने तीन रन बचा लिए थे तो मैंने सोचा कि यहां भी ऐसा होने कि सम्भावना है। '


युजवेंद्र चहल ने नकल गेंद का राज पूछा तो शार्दुल ठाकुर बोले, 'नकल बॉल की बात करें तो हम बचपन से ही उंगली टेढ़ी कर गेंद फेंक रहे हैं। वही मैंने मैच में भी किया। ' अपना वीडियो समाप्त करते हुए आखिर में युजवेंद्र चहल ने प्रार्थना कर डाली कि पांचवें टी20 में सुपर ओवर ना हो।