भारतीय क्रिकेट टीम इस दिन वेलिंगटन के मैदान पर उतरेगी

भारतीय क्रिकेट टीम इस दिन  वेलिंगटन के मैदान पर उतरेगी

भारतीय क्रिकेट टीम जब शुक्रवार को वेलिंगटन के मैदान पर उतरेगी तो के पास सौरव गांगुली, एमएस धोनी, सुनील गावस्कर, मोहम्मद अजहरुद्दीन जैसे दिग्गजों को पीछे छोड़ने का मौका होगा। के बीच पहला टेस्ट मैच में खेला जाना है। हिंदुस्तान को इस मैदान पर आखिरी जीत 52 वर्ष पहले मिली थी। विराट कोहली की टीम पर जीत का यह सूखा समाप्त करने का जिम्मा है।   

वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व स्टेडियम में 1930 से टेस्ट मैच खेले जा रहे हैं।  ने यहां सात टेस्ट मैच खेले हैं। उसने यहां पहला टेस्ट 1968 में खेला व इसे जीता भी था। इसके बाद उसे यहां टेस्ट मैच में जीत नहीं मिली है। कोहली इस मैदान पर कप्तानी करने वाले सातवें भारतीय होंगे। उनसे पहले यहां , बिशन सिंह बेदी, सुनील गावस्कर, मोहम्मद अजहरुद्दीन, सौरव गांगुली व एमएस धोनी कप्तानी कर चुके हैं।  

भारतीय टीम ने 1968 में खेले गए टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड को 186 व 199 रन पर समेट दिया था। अतिथि टीम ने मैच में पहली पारी में 327 व दूसरी पारी में 59/2 रन बनाकर जीत दर्ज की थी। भारतीय जीत के हीरो ऑफ स्पिनर इरापल्ली प्रसन्ना व अजित वाडेकर रहे थे। उन्होंने इस मैच में पहली पारी में पांच व दूसरी पारी में तीन विकेट झटके थे। अजित वाडेकर ने 143 रन की पारी खेली थी। इस मैच में भारतीय टीम के कैप्टन नवाब पटौदी थे, जिन्हें टाइगर पटौदी भी बोला जाता था।   

के बीच वेलिंगटन में इसके बाद 1976, 1981, 1998 व 2002 में टेस्ट मैच खेले गए। इनमें क्रमश: बिशन सिंह बेदी, सुनील गावस्कर, मोहम्मद अजहरुद्दीन व सौरव गांगुली ने कप्तानी की। ये चारों ही कैप्टन हिंदुस्तान को वेलिंगटन में टेस्ट मैच नहीं जिता सके। न्यूजीलैंड ने ये चारों ही मैच जीते। इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी ने यहां 2009 व 2014 में कप्तानी की। धोनी की कप्तानी वाले इन दोनों ही मैचों में हिंदुस्तान ना तो जीता व ना ही हारा। ये दोनों टेस्ट ड्रॉ रहे।  

इस तरह अब विराट कोहली के पास बतौर कैप्टन नवाब पटौदी की बराबरी का मौका है, जिन्होंने हिंदुस्तान को वेलिंगटन में पहली व एकमात्र जीत दिलाई है। अगर हिंदुस्तान यहां टेस्ट मैच जीतता है तो विराट ऐसे दूसरे भारतीय कैप्टन बन जाएंगे, जिनकी टीम ने यहां जीत दर्ज की होगी।  

विराट के पास इस मैच में बतौर कैप्टन मोहम्मद अजहरुद्दीन की बराबरी का मौका भी है। अजहर एकमात्र भारतीय हैं, जिन्होंने बतौर कैप्टन वेलिंगटन में टेस्ट शतक लगाया है। विराट मौजूदा क्रिकेटरों में सबसे अधिक शतक लगाने वाले बल्लेबाज हैं। वे 70 इंटरनेशनल शतक लगा चुके हैं। अगर वे यहां शतक बनाते हैं, तो बतौर कैप्टन अजहर के शतक बनाने के रिकॉर्ड की बराबरी करेंगे।