भारत-ऑस्ट्रेलिया बॉक्सिंग डे टेस्ट में दर्शकों को मिल सकती है मंजूरी

भारत-ऑस्ट्रेलिया बॉक्सिंग डे टेस्ट में  दर्शकों को मिल सकती है मंजूरी

 ऑस्ट्रेलिया में विक्टोरिया के प्रधानमंत्री डेनियल एंड्रयूज ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार शहर में होने वाली दो शीर्ष खेल प्रतियोगिताओं में दर्शकों को स्टेडियम में आने की स्वीकृति देने के लिए बात कर रही है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) और टेनिस ऑस्ट्रेलिया के साथ बात हो रही है। इन शीर्ष खेल प्रतियोगिताओं में भारत के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट और ऑस्ट्रेलियन ओपन शामिल है।

इस तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं कि मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) सालाना बॉक्सिंग डे टेस्ट की मेजबानी से वंचित हो सकता है क्योंकि विक्टोरिया कोरोना वायरस महामारी से अधिक प्रभावित है। जुलाई से लॉकडाउन का सामना कर रहे विक्टोरिया में देश के कुल कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में से 75 प्रतिशत सामने आए हैं। कुल मौतों में से 90 प्रतिशत मौतें इसी राज्य में हुई हैं। ऑस्ट्रेलिया में संक्रमण के 26000 से अधिक मामले सामने आए हैं, जबकि 800 से अधिक लोगों की मौत हुई है।


टीम इंडिया का ओपनर बन सकता है अगला कप्तान, विराट की जगह लेने के लिए हो रहा तैयार

एंड्रयूज ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, 'हमें देखना होगा कि दर्शकों की सुरक्षित संख्या क्या होगी। इस समय यह कहना काफी मुश्किल होगा कि यह संख्या क्या होगी। इस बारे में अभी फैसला करना हमारे लिए जल्दबाजी होगी। हम अधिक से अधिक लोगों को वहां देखना चाहते हैं, बशर्ते यह सुरक्षित हो।'


जनवरी में ऑस्ट्रेलियन ओपन के लिए मेलबर्न पार्क में आठ लाख से अधिक दर्शक पहुंचे थे, जबकि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच बॉक्सिंग डे टेस्ट को देखने स्टेडियम में दो लाख से अधिक लोग पहुंचे थे। मेलबर्न की मेजबानी पर अनिश्चितता है और ऐसे में एडिलेड को भारत के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट की मेजबानी का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया रूल्स फुटबॉल के फाइनल को भी पहली बार मेलबर्न के बाहर आयोजित किया जाएगा। यह अक्टूबर में ब्रिसबेन में होगा।