IPL 2021 में हर टीम की तरफ से किस गेंदबाज ने लिए सबसे ज्यादा विकेट

IPL 2021 में हर टीम की तरफ से किस गेंदबाज ने लिए सबसे ज्यादा विकेट

आइपीएल 2021 में फाइनल समेत कुल 60 मैच खेले जाने थे, लेकिन 29 मैचों के बाद कोविड-19 महामारी की वजह से हालात कुछ ऐसे हो गए कि, बीसीसीआइ को इसे स्थगित करना पड़ा। आइपीएल के 14वें सीजन के आधे सफर में कई गेंदबाजों ने कमाल का प्रदर्शन किया और अपनी टीम के लिए खूब विकेट भी लिए। आइए आपको बताते हैं कि, इस लीग के स्थगित होने से पहले तक हुए मुकाबलों में आइपीएल की सभी आठ टीमों की तरफ से किस-किस गेंदबाज ने सबसे ज्यादा विकेट लेने में सफलता हासिल की। 

हर्षल पटेल ने लिए सबसे ज्यादा विकेट

आइपीएल 2021 में अब तक सबसे ज्यादा विकेट लेने की बात करें तो इसमें आरसीबी के गेंदबाज हर्षल पटेल पहले नंबर पर रहे। उन्होंने 7 मैचों में कुल 17 विकेट चटकाए साथ ही साथ आरसीबी की तरफ से वो सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी रहे। वहीं दिल्ली कैपिटल्स की बात करें इस टीम की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट आवेश खान ने लिए। उन्होंने 8 मैचों में दिल्ली के लिए कुल 14 विकेट हासिल किए। वहीं राजस्थान रॉयल्स की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में पहले नंबर पर क्रिस मौरिस रहे जिन्होंने कुल 14 विकेट चटकाए। 


रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई इंडियंस की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में पहले नंबर पर राहुल चाहर रहे जिन्होंने 11 सफलता अर्जित की तो वहीं सनराइजर्स हैदराबाद की तरफ से युवा स्पिरन राशिद खान ने सबसे ज्यादा 10 विकेट लिए। एम एस धौनी की टीम चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट सैम कुर्रन ने लिए और उन्होंने 9 बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया। कोलकाता नाइट राइडर्स की तरफ से पैट कमिंस सबसे सफल गेंदबाज रहे और 9 बल्लेबाजों को उन्होंने आउट किया। वहीं पंजाब की तरफ से 8 विकेट लेकर मो. शमी सबसे सफल गेंदबाज रहे। 


आइपीएल 2021 के 29 मुकाबले में हर टीम की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज-

आरसीबी- हर्षल पटेल- (17)

दिल्ली कैपिटल्स- आवेश खान- (14)

राजस्थन रॉयल्स- क्रिस मौरिस- (14)

मुंबई इंडियंस- राहुल चाहर- (11)

एसआरएच- राशिद खान- (10)

सीएसके- सैम कुर्रन- (9)

केकेआर- पैट कमिंग- (9)

पंजाब किंग्स- मो. शमी- (8)


न्यूजीलैंड टीम के पूर्व कोच ने बताया, WTC फाइनल में कौन होगा भारतीय टीम के लिए एक्स फैक्टर

न्यूजीलैंड टीम के पूर्व कोच ने बताया, WTC फाइनल में कौन होगा भारतीय टीम के लिए एक्स फैक्टर

ICC विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल को लेकर न्यूजीलैंड के पूर्व दिग्गज कोच माइक हेसन ने एक बड़ा दावा किया है। माइक हेसन ने भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले आगामी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के लिए टीम इंडिया के एक्स फैक्टर के तौर पर देखा है। पंत ऑस्ट्रेलिया के बाद भारत में टेस्ट क्रिकेट में जो बल्ले से कोहराम दिखाया है, उसने सभी को प्रभावित किया है।

दिग्गज कोच हेसन ने कहा है, "ड्यूक बॉल स्पिन गेंदबाजों को हमेशा पसंद आती है, क्योंकि सीम ऊपर होती है। टीम इंडिया में ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा के होने से बैलेंस अच्छा रहेगा। इससे टीम को पांच गेंदबाज मिल जाते हैं। इतना ही नहीं बाएं और दाएं हाथ के बल्लेबाज के खिलाफ भी फायदा मिलता है। न्यूजीलैंड में पांच बाएं जबकि छह दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं।"


न्यूजीलैंड टीम के कप्तानी कोच पद को वर्ल्ड कप 2019 के बाद छोड़ने वाले माइक हेसन ने कहा कि पंत ने ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन किया था। उनको अधिक आत्मविश्वास आ गया है। इस कारण वह जैसा खेलना चाहते थे, उस तरह खेल रहे हैं। उन्हें खेलते देखना मुझे भी पंसद है। रिषभ पंत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो टेस्ट मैचों में अहम पारियां खेली थीं, जहां टीम एक मैच जीतने में सफल रही थी, जबकि एक मैच में पंत ने टीम को हार से बचाया था।


उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड की टीम डब्ल्यूटीसी फाइनल में चार तेज गेंदबाजों के साथ उतर सकती है। पांचवें गेंदबाज के तौर पर कोलिन ग्रैंडहोम या बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज मिशेल सेंटनर को शामिल किया जा सकता है। इंग्लैंड के खिलाफ पदार्पण टेस्ट में दोहरा शतक लगाने वाले डेवन कॉनवे को लेकर उन्होंने कहा कि वह सीमित ओवरों के क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। ऐसे में मुझे उनके प्रदर्शन में पर कोई आश्चर्य नहीं हुआ।