कप्तान हरमनप्रीत कौर का बेकार फॉर्म टीम के लिए चिंता का है विषय

कप्तान हरमनप्रीत कौर का बेकार फॉर्म  टीम के लिए चिंता का है विषय

महिला टी-20 दुनिया में आज भारतीय टीम का मुकाबला न्यूजीलैंड से होगा। मैच भारतीय समय के मुताबिक प्रातः काल साढ़े नौ बजे से प्रारम्भ होगा। मैच एतिहासिक मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में खेला जाएगा। वायरल बुखार की वजह से बांग्लादेश के विरूद्ध मैच से बाहर रहने वाली सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना इस मैच में प्लेइंग इलेवन में शामिल हो सकती हैं। लगातार दो लीग मैचों में जीत हासिल करने वाली भारतीय टीम विजयी अभियान जारी रखना चाहेगी

न्यूजीलैंड का पलड़ा है भारी

न्यूजीलैंड के विरूद्ध भारतीय टीम को पूरा दमखम लगाना होगा, क्योंकि दोनों टीमों के बीच मुकाबलों में न्यूजीलैंड का पलड़ा भारी रहा है। हिंदुस्तान व न्यूजीलैंड के बीच 13 टी 20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेले गए हैं जिसमें न्यूजीलैंड ने 8 मैचों में जीत हासिल की है। वहीं टी 20 दुनिया कप में दोनों के बीच 3 मुकाबले खेले गए हैं जिसमें न्यूजीलैंड की टीम ने दो बार जीत हासिल की है।

भारतीय टीम का पिछला प्रदर्शन

भारतीय टीम ने पिछले दो लीग मुकाबलों में ऑस्ट्रेलिया व न्यूजीलैंड को हराया है। इसलिए तीसरे लीग मुकाबले में भारतीय टीम सारे आत्मविश्वास के साथ मैदान में उतरेगी। भारतीय टीम ने पिछले दोनों मुकाबलों में टॉस गंवाया था। हिंदुस्तान ने ऑस्ट्रेलिया को 17 रन तो वहीं बांग्लादेश को 18 रनों से हराया था। हालांकि दोनों ही बार भारतीय बल्लेबाजी प्रयत्न करती नजर आई थी।

भारतीय बल्लेबाजी इस टूर्नामेंट में सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा व मध्यक्रम में जेमिमा रोड्रिग्ज के इर्द-गिर्द घूमती नजर आई है। दीप्ति शर्मा, शिखा पांडे व वेदा कृष्णमूर्ति ने टुकड़ों में प्रदर्शन किया है। दूसरी सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध सस्ते में आउट हो गयी थीं, वहीं बांग्लादेश के विरूद्ध खेल ही नहीं पाई थीं।

कप्तान हरमनप्रीत कौर का बेकार फॉर्म भी टीम के लिए चिंता का विषय है। वो पिछले दोनों लीग मुकाबलों में दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाईं थीं।

मजबूत है भारतीय गेंदबाजी

हालांकि गेंदबाजी में स्पिनर पूनम यादव, राजेश्वरी गायकवाड़ व तेज गेंदबाज शिखा पांडे ने एक इकाई के तौर पर शानदार प्रदर्शन किया है। पूनम यादव ने ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध चार विकेट लेकर हिंदुस्तान को जीत दिलाई थी वहीं बांग्लादेश के विरूद्ध भी उन्होंने तीन विकेट हासिल किए। राजेश्वरी गायकवाड़ का हालांकि बेहद विकेट नहीं मिला लेकिन उन्होंने किफायती गेंदबाजी करके विपक्षी बल्लेबाजों पर दवाब बनाया है। शिखा पांडे भी बहुत ज्यादा प्रभावी रही हैं। लेकिन बल्लेबाजों को वो स्कोर बनाकर देना होगा जिसका गेंदबाज बचाव कर सकें।

न्यूजीलैंड का पलड़ा है भारी

न्यूजीलैंड के विरूद्ध भारतीय टीम को पूरा दमखम लगाना होगा, क्योंकि दोनों टीमों के बीच मुकाबलों में न्यूजीलैंड का पलड़ा भारी रहा है। हिंदुस्तान व न्यूजीलैंड के बीच 13 टी 20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेले गए हैं जिसमें न्यूजीलैंड ने 8 मैचों में जीत हासिल की है। वहीं टी 20 दुनिया कप में दोनों के बीच 3 मुकाबले खेले गए हैं जिसमें न्यूजीलैंड की टीम ने दो बार जीत हासिल की है।

भारतीय टीम का पिछला प्रदर्शन

भारतीय टीम ने पिछले दो लीग मुकाबलों में ऑस्ट्रेलिया व न्यूजीलैंड को हराया है। इसलिए तीसरे लीग मुकाबले में भारतीय टीम सारे आत्मविश्वास के साथ मैदान में उतरेगी। भारतीय टीम ने पिछले दोनों मुकाबलों में टॉस गंवाया था। हिंदुस्तान ने ऑस्ट्रेलिया को 17 रन तो वहीं बांग्लादेश को 18 रनों से हराया था। हालांकि दोनों ही बार भारतीय बल्लेबाजी प्रयत्न करती नजर आई थी।

भारतीय बल्लेबाजी इस टूर्नामेंट में सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा व मध्यक्रम में जेमिमा रोड्रिग्ज के इर्द-गिर्द घूमती नजर आई है। दीप्ति शर्मा, शिखा पांडे व वेदा कृष्णमूर्ति ने टुकड़ों में प्रदर्शन किया है। दूसरी सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध सस्ते में आउट हो गयी थीं, वहीं बांग्लादेश के विरूद्ध खेल ही नहीं पाई थीं।

कप्तान हरमनप्रीत कौर का बेकार फॉर्म भी टीम के लिए चिंता का विषय है। वो पिछले दोनों लीग मुकाबलों में दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाईं थीं।

मजबूत है भारतीय गेंदबाजी

हालांकि गेंदबाजी में स्पिनर पूनम यादव, राजेश्वरी गायकवाड़ व तेज गेंदबाज शिखा पांडे ने एक इकाई के तौर पर शानदार प्रदर्शन किया है। पूनम यादव ने ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध चार विकेट लेकर हिंदुस्तान को जीत दिलाई थी वहीं बांग्लादेश के विरूद्ध भी उन्होंने तीन विकेट हासिल किए। राजेश्वरी गायकवाड़ का हालांकि बेहद विकेट नहीं मिला लेकिन उन्होंने किफायती गेंदबाजी करके विपक्षी बल्लेबाजों पर दवाब बनाया है। शिखा पांडे भी बहुत ज्यादा प्रभावी रही हैं। लेकिन बल्लेबाजों को वो स्कोर बनाकर देना होगा जिसका गेंदबाज बचाव कर सकें।