7 वर्ष बाद मैदान पर हो सकती हैं श्रीसंत की वापसी

7 वर्ष बाद मैदान पर हो सकती हैं श्रीसंत की वापसी

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज एस श्रीसंत का 7 वर्ष का बैन रविवार को समाप्त हो गया। श्रीसंत पर स्पॉट फिक्सिंग के इलज़ाम के मामले में लाइफ टाइम बैन लगा दिया गया था, लेकिन बाद में सुप्रीम कोर्ट ने इसे घटाकर इसे 7 वर्ष का किया जा चुका था। 37 वर्ष के तेज गेंदबाज श्रीसंत ये साफ कर चुके हैं कि बैन के के उपरांत वो घरेलू क्रिकेट में खेलेंगे तो वहीं उनकी होम टीम केरल की ओर से भी ये कहा जा चुका है कि अगर वो अपनी फिटनेस साबित कर देते हैं तो वो उन्हें टीम में शामिल करने पर विचार करने वाले है।

बैन समाप्त होने से पहले यानी शुक्रवार को श्रीसंत ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि, मैं प्रत्येक तरह के चार्ज से पूरी तरह से फ्री हो जाउंगा और उस खेल का प्रतिनिधित्व फिर से करने वाला हूँ जिसे मैं सबसे अधिक पसंद करता हूं। मैं प्रत्येक एक गेंद पर अपना बेस्ट देने का प्रयास करने वाला हूँ। उन्होंने आगे लिखा था कि मैं इस खेल को 5-7 साल और दे सकता हूं और जिस भी टीम की तरफ से खेलूंगा अपना बेस्ट दूंगा। आपको बता दें कि श्रीसंत पर 2013 IPL सीजन के बीच फिक्सिंग के इलज़ाम लगे थे और उसके उपरांत उन पर लाइफ टाइम बैन  कर दिया था। वर्ष 2013 में श्रीसंत के अतिरिक्त अजीत चंडीला और अंकित चौहान पर भी बैन लगा दिया गया था।

जिसके उपरांत सुप्रीम कोर्ट ने बीते वर्ष 15 मार्च को BCCI की अनुशासन कमेटी के आदेश को रद्द कर दिया था और बोर्ड को सजा की अवधि कम करने पर विचार करने की बात कही है। श्रीसंत ने इंडिया के लिए 27 टेस्ट, 53 वनडे और 10 टी 20 इंटरनेशनल मैच खेले थे। टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 87, वनडे में 75 जबकि टी20 क्रिकेट में 7 विकेट उनके नाम पर थे। श्रीसंत एक आक्रामक तेज गेंदबाज के तौर पर जाने जाते हैं और उनके सेलीब्रेशन का अंदाज सबसे अलग था, लेकिन बैन के उपरांत इन सब पर रोक लगा दी गई।

श्रीसंत अब घरेलू क्रिकेट के जरिए मैदान पर वापस आने की तैयारी कर ली है, लेकिन इस वक्त कोरोना वायरस की महामारी के कारण भारत का घरेलू क्रिकेट बंद है ऐसे में उन्हें वापसी के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है। वैसे ये भी देखना दिलचस्प होने वाला है कि केरल की टीम में उन्हें मौका मिलता है या नहीं। हालांकि घरेलू सीजन की शुरुआत अगस्त से होनी थी, लेकिन ऐसा नहीं हो सका और अब बोर्ड भी स्थिति के संभलने का प्रतीक्षा कर रही है। वैसे एक बात तो तय है कि क्रिकेट में वापसी के उपरांत श्रीसंत अपनी बिगड़ी छवि को सुधारने की पूरा प्रयास करेंगे।