ऐसी महान टेनिस खिलाड़ी, जिन्होंने कम उम्र में बनाए इतने खिताब

ऐसी महान टेनिस खिलाड़ी, जिन्होंने कम उम्र में बनाए इतने खिताब

नई दिल्ली : मैरी कैरोलिन पियर्स यह एक टेनिस खिलाड़ी हैं। जिन्होंने अपने खेल अभिनय से टीम प्रतियोगिताओं और ओलंपिक में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फ्रांस का प्रतिनिधित्व किया। वह कनाडा में एक अमेरिकी पिता और एक फ्रांसीसी परिवार में इनका जन्म हुआ। इनका जन्म 15 जनवरी 1975 में हुआ था। यह खिलाड़ी तीनों देशों की नागरिकता रखती है।

मैरी कैरोलिन पियर्स का टेनिस करियर
पियर्स ने चार ग्रैंड स्लैम खिताब जीते हैं दो एकल में, एक युगल में और एक मिश्रित युगल में। वह छह ग्रैंड स्लैम एकल फाइनल में पहुंची। इन्होंने सबसे हाल ही में यूएस ओपन और 2005 में फ्रेंच ओपन में खेला है। उनके ग्रैंड स्लैम एकल खिताब 1995 ऑस्ट्रेलियन ओपन और 2000 फ्रेंच ओपन में आए। आपको बता दें पियर्स अंतिम फ्रेंच खिलाड़ी, पुरुष या महिला, बाद का खिताब जीतने वाली हैं। उन्होंने साल 2000 में फ्रेंच ओपन में मार्टिना हिंगिस के साथ अपने साथी के रूप में युगल प्रतियोगिता जीती, और 2000 ऑस्ट्रेलियाई ओपन में एक अतिरिक्त ग्रैंड स्लैम महिला युगल फाइनल में पहुंची। जिसमें हिंगिस की भी भागीदारी थी।

चैंपियनशिप में मिक्स्ड डबल्स प्रतियोगिता जीती
उन्होंने 2005 विंबलडन चैंपियनशिप में मिक्स्ड डबल्स प्रतियोगिता भी जीती। जिसमें महेश भूपति ने भागीदारी की। पियर्स ने 18 डब्ल्यूटीए एकल खिताब और 10 डब्ल्यूटीए युगल खिताब जीते हैं। जिसमें पांच टीयर एकल इवेंट शामिल हैं। वह दो बार सीजन-समाप्त डब्ल्यूटीए टूर चैंपियनशिप के फाइनल में भी पहुंची। उन्हें 2019 में अंतर्राष्ट्रीय टेनिस हॉल ऑफ फेम में शामिल किया गया था।

दस साल की उम्र में टेनिस खेलना किया शुरू
पियर्स ने दस साल की उम्र में टेनिस खेलना शुरू किया। टेनिस में पेश किए जाने के दो साल बाद 12 वर्ष से कम उम्र की लड़कियों के लिए और उन्हें देश में नंबर 2 पर रखा गया। अप्रैल 1989 में हिल्टन हेड में एक डब्ल्यूटीए टूर्नामेंट में पियर्स सबसे युवा अमेरिकी खिलाड़ी 14 साल और 2 महीने की उम्र में पेशेवर दौरे पर पदार्पण करने वाली बनी। उनकी शारीरिकता और आक्रामक दृष्टिकोण के कारण, उनकी बॉलस्ट्राइकिंग की तुलना कैपरीटी से की गई और उन्होंने जल्दी से महिलाओं के सर्किट पर सबसे मुश्किल hitters में से एक होने के लिए एक प्रतिष्ठा प्राप्त की।

2006 पहला टूर्नामेंट ऑस्ट्रेलियन ओपन
मैरी कैरोलिन पियर्स 2006 में प्रमुख खिताब जीतने के लिए एक सत्र में ऑफ सीज़न में कड़ी मेहनत की। वर्ष का पहला टूर्नामेंट ऑस्ट्रेलियन ओपन था। उन्होंने पहले दौर में चेक गणराज्य की इवेता बेनेस्को से हारने से पहले इस दौर में ऑस्ट्रेलिया की निकोल प्रैट को हराया। हार ने उन्हें मार्टिना हिंगिस के साथ तीसरे दौर के मैच से वंचित कर दिया। पियर्स अपने अगले टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची, गाज़ डे फ्रांस इन पेरिस, जहां वह सीधे सेटों में हमवतन अमेली मर्समो से हार गई। फ्रेंच ओपन और विंबलडन से हटने के कारण पियर्स अगस्त तक फिर से नहीं खेल पाए।


भारत में ही पांच-छह शहरों में होगा IPL 2021 का आयोजन

भारत में ही पांच-छह शहरों में होगा IPL 2021 का आयोजन

इंग्लैंड सीरीज के तुरंत बाद होने वाली इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) का आयोजन भारत में ही पांच-छह शहरों में कराया जाएगा। कोरोना के कारण आइपीएल के 13वें सीजन का आयोजन पिछले साल 19 सितंबर से 10 नवंबर तक संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में किया गया था, लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) ने इस बार तय किया है कि दुनिया की सबसे महंगी क्रिकेट लीग का आयोजन भारत में ही होगा।

बीसीसीआइ के एक पदाधिकारी ने कहा कि पहले हम लोग चर्चा कर रहे थे कि एक शहर में लीग मुकाबले कराएं और दूसरे शहर में नॉकआउट मुकाबले आयोजित कराए जाएं। ऐसे में हम सिर्फ एक बायो-बबल (खिलाड़ियों के लिए बनाए गए विशेष सुरक्षा माहौल) में ही पूरा टूर्नामेंट करा लेते, लेकिन अब यह तय किया गया है कि 11 अप्रैल से शुरू होने वाला यह टूर्नामेंट पांच-छह शहरों में आयोजित किया जाएगा। इसके लिए हमें पांच-छह बायो-बबल बनाने होंगे।


उन्होंने कहा कि जल्द ही कार्यक्रम की घोषणा हो जाएगी। मालूम हो कि पहले दिल्ली कैपिटल्स के सह मालिक पार्थ जिंदल ने कहा कि था कि ऐसा लग रहा है कि लीग मैच मुंबई में और नॉकआउट मुकाबले अहमदाबाद में होंगे। मुंबई में वानखेड़े के अलावा ब्रेबोर्न और डीवाई पाटिल स्टेडियम भी हैं। पदाधिकारी ने कहा कि पहले हम लोग ऐसा सोच रहे थे, लेकिन कोरोना की स्थिति शहर दर शहर बदल रही है। मुंबई में हम सारे मैचों की योजना बना लें और वहां लॉक डाउन लगने जैसी स्थिति आ जाए तो सब खराब हो जाएगा।


2019 में आइपीएल का आयोजन भारत में नौ शहरों (चेन्नई, कोलकाता, मुंबई, जयपुर, दिल्ली, बेंगलुरु, हैदराबाद, मोहाली और विशाखापत्तनम) में हुआ था। इसमें आठ फ्रेंचाइजियों के घरेलू मैदान हैं। बीसीसीआइ के पदाधिकारी ने कहा कि इतना तो तय है कि इस बार नौ मैदानों में मैच नहीं होंगे। यहां तक कि सभी फ्रेंचाइजियों के घरेलू मैदानों में भी मैच नहीं होंगे, लेकिन हम ज्यादा से ज्यादा स्टेडियम में इसे आयोजित करने के बारे में सोच रहे हैं।


उन्होंने कहा कि आयोजन स्थल पर अभी चर्चा हो रही है। इसमें फ्रेंचाइजियों की भी सहमति लेनी जरूरी है। मुंबई, दिल्ली, अहमदाबाद, चेन्नई, बेंगलुरु और लखनऊ के नामों पर चर्चा हुई है। इसके अलावा भी कई शहरों के नामों पर बात हुई है। जल्द ही फैसला लिया जाएगा। आइपीएल के 14वें सीजन के लिए ऑक्शन हो चुका है, जिसमें सबसे महंगी बोली साउथ अफ्रीका के क्रिस मौरिस पर लगी है। राजस्थान की टीम ने उनको खरीदा है।


Tiger Shroff के शानदार डांस पर दिशा पाटनी ने किया दिलचस्प कमेंट       इस एक्ट्रेस ने कराया ग्लैमरस फोटोशूट, देखकर हो जाएंगे दीवाने       एक्ट्रेस जमीला जमील को प्रियंका चोपड़ा समझ बैठा फैन       बयान दर्ज कराने क्राइम ब्रांच के पहुंचे ऋतिक रोशन       Ranveer Singh ने रोहित शेट्टी के एक्शन सीन को लेकर कही ये बात       इंस्टेंट बल्ड शुगर कंट्रोल करने के लिए रोजाना पिएं इसका पानी       लहसुन खाएंगे तो कम होगा ऐसी गंभीर बीमारियों का जोखिम       शरीर में ये बदलाव डायबिटीज के हैं लक्षण       कोरोना वायरस से मिली हैं ये 6 सीख       इन चीजों से करें परहेज और पीलिया में खाएं ये चीजें       पाचन तंत्र को दुरुस्त बनाने के साथ सेहत के लिए बहुत होता है फायदेमंद दलिया       सेहत के लिए बहुत लाभकारी होता है अश्वगंधा       उल्टी की समस्या से छुटकारा पाने के लिए करें ये उपाय       हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ सेहत के लिए भी बहुत होती है लाभकारी ये दाल       सिरदर्द से हो गए परेशान, तो अपनाएं ये उपचार       अब इन दो टीमों के पास है मौका, World Test Championship से बाहर हुई इंग्लैंड की टीम       भारत में ही पांच-छह शहरों में होगा IPL 2021 का आयोजन       OMG! इस एक्ट्रेस ने इंस्टाग्राम पर शेयर की ग्लैमरस तस्वीर       OTT Platform Guidelines पर क्या है लोगों की राय? किसी ने बताया महत्वपूर्ण कदम तो कोई बोला...       Sita- The Incarnation: अब बड़े पर्दे पर आएगी 'सीता' की अनकही कहानी, इस फ़िल्म का है ये कनेक्शन