UNHRC मे पाक द्वारा भारत के खिलाफ पेश किए गए डोजियर यह दंग करने वाला तथ्य सामने आया है

UNHRC मे पाक द्वारा भारत के खिलाफ पेश किए गए डोजियर यह दंग करने वाला तथ्य सामने आया है

जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद बैचेन पाक हर अंतरराष्ट्रीय संगठन में इस मामले को उठाने की प्रयास की है, लेकिन हर बार पराजय का मुंह देखने पड़ा है. अब तिलमिलाए पाक ने संयुक्त देश मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में इस मामले को उठाया है. जेनेवा में सोमवार को प्रारम्भ हुई यह मीटिंग 27 सितंबर तक चलेगी.

पाकिस्तान ने कश्मीर में हो रहे मानवाधिकार के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए हिंदुस्तान के विरूद्ध एक डोजियर पेश किया है. लेकिन इस डोजियर का पहला पेज लीक हो गया. इस लीक दस्तावेज से जो तथ्य सामने आए हैं, वह बहुत ही दंग करने वाला है.

दरअसल पाक के पास यह साबित करने के लिए कोई पुख्ता सबूत है ही नहीं कि हिंदुस्तान कश्मीर में मानवाधिकार का उल्लंघन कर रहा है. लिहाजा पाक ने हिंदुस्तान के विपक्षी दलों के नेताओं के बयान का सहारा लिया है.

पाकिस्तान ने डोजियर में राहुल व अब्दुल्ला के बयान को किया शामिल

लीक दस्तावेजों के पहले पन्ने पर ही पाक ने कांग्रेस पार्टी नेता राहुल गांधी व नेशनल कांफ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला के बयान का तरजीह देते हुए हिंदुस्तान के विरूद्ध सबूत पेश किए हैं. बता दें कि यूएनएचआरसी में आज कश्मीर आधारित सेशन में हिंदुस्तान व पाक दोनों अपने दावे पेश करेंगे.

UNHRC में जवाब देने से पहले ही पाक ने दबाव की पॉलिटिक्स प्रारम्भ कर दी है. पाक के पीएम इमरान खान ने एक ट्वीट करते हुए लिखा, ‘अब समय आ गया है, अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को भारतीय बलों की ओर से किए जा रहे मानवाधिकार उल्लंघन पर अलग राय नहीं रखनी चाहिए.’

बता दें कि जम्मू और कश्मीर से धारा 370 समाप्त होने के बाद राहुल गांधी घाटी का दौरा करना चाहते थे, लेकिन सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर सरका

पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने का तैयार है भारत

संयुक्त देश मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में हिंदुस्तान व पाक जम्मू और कश्मीर की मौजूदा स्थिति को लेकर एक-दूसरे के तर्कों का जवाब देंगे.

पहले पाक अपना पक्ष रखेगा. पाकिस्तानी विदेश मंत्री कुरैशी पाक का बयान रखेंगे. उसके बाद हिंदुस्तान अपना बयान रखेगा.

ऐसा माना जा रहा है कि हिंदुस्तान ने पाक के हर जवाब व साजिश का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए हिंदुस्तान ने पूरी तैयारी की है. यदि पाक कश्मीर मामले पर रोना रोता है व गैर मर्यादित व्यवहार करने के साथ अनर्गल आरोप लगाता है तो हिंदुस्तान उसका पुरजोर ढंग से जवाब देगा.

बता दें कि भारतीय पक्ष का नेतृत्व विदेश मंत्रालय के पूर्वी क्षेत्र के सचिव विजय ठाकुर सिंह करेंगे, जिसमें अजय बिसारिया भी शामिल हैं. अजय बिसारिया इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायुक्त थे, जिन्हें कश्मीर मसले पर विवाद के बीच पाक ने वापस हिंदुस्तान भेज दिया था.