जानिए सचिन ने हिन्दुस्तान के खिलाडियो को कहा ये...

जानिए सचिन ने हिन्दुस्तान के खिलाडियो को कहा ये...

चैंपियन क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर का मानना है कि जसप्रीत बुमराह की प्रतिनिधित्व में भारतीय आक्रमण इस दौर का सबसे मुकम्मल है

उन्होंने बोला कि इन गेंदबाजों की तुलना इसी दौर के गेंदबाजों से होनी चाहिए

उन्होंने बोला ,अब दो नयी गेंद होती हैं व फील्डिंग की पाबंदियां भी हैं

उन्होंने कहा,‘इसके अतिरिक्त कलाई के स्पिनर कुलदीप व चहल भी बीच के ओवरों में मिलकर अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं

साउथहैंम्पटन
चैंपियन क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर का मानना है कि जसप्रीत बुमराह की प्रतिनिधित्व में भारतीय आक्रमण इस दौर का सबसे मुकम्मल है लेकिन इसकी तुलना 2003 व 2011 के गेंदबाजों से नहीं की जानी चाहिए. उन्होंने बोला कि इन गेंदबाजों की तुलना इसी दौर के गेंदबाजों से होनी चाहिए. 1992 व 2011 के बीच छह दुनिया कप खेल चुके तेंदुलकर ने कपिल देव, जवागल श्रीनाथ व जहीर खान की प्रतिनिधित्व वाले तेज आक्रमण को करीब से देखा है.

उन्होंने बोला कि भिन्न भिन्न दौर के खिलाड़ियों की तुलना बेमानी है. उन्होंने बोला ,‘मुझे दो भिन्न-भिन्न दौर के खिलाड़ियों की तुलना पसंद नहीं है जब खेलने के नियम अलग थे वपिचें भी ऐसी नहीं थीं.’ उन्होंने बोला ,‘अब दो नयी गेंद होती हैं व फील्डिंग की पाबंदियां भी हैं यानी 11वें से 40वें ओवर के बीच 30 गज के बाहर चार फील्डर व आखिरी दस ओवर में पांच होते हैं. इसके अर्थ हैं कि 100 मीटर के धावक अब नए नियमों के तहत 90 मीटर या 80 मीटर दौड़ रहे हैं .’