अपने शरीर में इस जानलेवा बिम्मरि के लक्षणों को पहचाने, करें यह आसान काम

 अपने शरीर में इस जानलेवा बिम्मरि के लक्षणों को पहचाने, करें यह आसान काम

वर्ल्ड हार्ट डे 29 सितंबर 2019 को मनाया जाएगा. हार्ट डे मनो का मकसद लोगों को दिल की बीमारियों के बारे में जागरूक करना है. आजकल दौड़भाग वाली जिंदगी व अनियमित और असंतुलित खान-पान हमारे ज़िंदगी में तरह के बीकार पैदा कर रहा है जिनमें दिल की बीमारियां भी शामिल हैं. चूंकि दिल हमारे शरीर का सबसे जरूरीअंग है ऐसे में हमें इससे जुड़ी बीमारियों व समस्याओं के प्रति जागरूक होना बेहद महत्वपूर्ण है. जिससे कि खुद व अपनों को समय रहते आर्ट अटैक जैसी गंभीर समस्या से बचा सकें.

हार्ट अटैक से बचने के लिए पहली महत्वपूर्ण बात है कि हम उसके लक्ष्ण, सावधानियां बचाव के उपयों के बारे में जानें, तो आइए जानते हैं क्यों होती हैं दिल की बीमारियां-


हार्ट प्रॉब्लेम्स के कारण-
आजकल लोग माडर्न, सरल और आरामदेह जीवनशैली के असर में अपने शरीर व उसकी जरूरतों को बहुत ज्यादा ज्यादा नजरअंदाज कर रहे हैं. जैसे- बाहर का खाना जैसे फास्ट-फूड, जंक फूड का सेवन, शराब का सेवन, ज्यादा फैट वाला मांस, ज्यादा तैलीय खाना आदि की आदत होना. इसके साथ ही शारीरिक गतिविधियों में भाग न लेना, आवश्यकता से ज्यादा तनाव पालना. इन सबका सीधा प्रभाव हमारे दिल पर पड़ता है. व दिल की बीमारी हमें घेर लेती है. पहले ज़िंदगी बहुत ज्यादा आराम देह लग सकता है लेकिन इसके परिणाम बहुत ज्यादाखतरनाक होते हैं.

हार्ट अटैक के कारण
जब ह्रदय अच्छा से पंप नहीं कर पाता है तो हमें ह्रदय की बीमारी घेरने का खतरा बन जाता है. इसमें कोरोनरी धमनियों में ब्लाकेज हो जाता है. यह ब्लॉकेज एक प्रकार के वसा की वजह से होती है. ब्लॉकेज के कारण रक्त प्रवाह धीमा हो जाता है व मस्तिष्क जैसे महत्वपूर्ण अंगों को पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन नहीं मिल पाता. ब्लॉकेज ज्यादा होने पर दिल रक्त पंप नहीं कर पाता व मनुष्य को हार्ट अटैक आ जाता है.

हार्ट प्रॉब्लेम्स के लक्षण
हार्ट अटैक के लक्षण हर शरीर में भिन्न-भिन्न ढंग के होते हैं. कुछ लोगों के सीने में धीमा दर्द उठता है जबकि कुछ लोगों को एकदम से तीव्र दर्द होता है. हार्ट अटैक आने पर किसी को कोई लक्षण समझ में नहीं आते हैं जबकि किसी को कार्डियक अरेस्ट की कठिनाई हो जाती है. हार्ट अटैक आने से पहले चेतावनी के तौर पर सीने में हल्का दर्द होता है या सीने में हल्का दबाव महसूस होता है जो थोड़े बहुत आराम से ठीक हो जाता है.

इससे बचने के उपाय
फास्ट फूड, जंक फूड और ज्यादा वसीय पदार्थों के सेवन से बचें. नियमित रूप से कुछ देर व्यायाम करें या पैदल चलें. डॉक्टरी चेकअप कराते रहें. सीने में होने वाले किसी भी प्रकार के दर्द को नजरअंदाज न करें. अगर ऐसी किसी तरह की कठिनाई महसूस हो तो तुरंत ही समीप अस्पताल के डॉक्टर या दिल विशेषज्ञ को दिखाएं. तकलीफ बढ़ने पर मेडिकल इमरजेंसी को फोन करें. प्रयास करें कि जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचें. किसी प्रकार के घरेलू इलाज में समय बर्बाद न करें.