गूगल के एंड्रॉयड को टक्कर देगा हुआवे का 'हार्मनीओएस'

गूगल के एंड्रॉयड को टक्कर देने के लिए हुआवे टेक्नोलॉजी ने शुक्रवार को हार्मनीओएस पेश कर दिया। माना जा रहा है कि यह ऑपरेटिंग सिस्टम एक दिन एंड्रॉयड की जगह लेकर लोगों की अमेरिकी तकनीक पर निर्भरता कम कर देगा। हार्मनी ओएस लॉन्च किए जाने के अवसर पर हुआवे कंज्यूमर बिजनेस के सीईओ रिचर्ड यू ने बताया कि ऑपरेटिंग सिस्टम स्मार्टफोन, स्मार्ट स्पीकर्स के साथ सेंसर्स के लिए भी कंपैटिबल है।

यह आजकल मशहूर हो रहे इंटरनेट ऑफ थिंग्स का भी हिस्सा है। 2020 तक यह स्मार्टफोन और कारों में नजर आने वाला एक आम ऑपरेटिंग सिस्टम हो जाएगा। उन्होंने बताया कि हार्मनीओएस माइक्रोकेरनल पर आधारित है, यानी यह कम से कम संसाधनों का इस्तेमाल कर सुनिश्चित करेगा कि ऑपरेटिंग स्पीड तेज हो। इसमें आर्क कम्पाइलर है, जो सी/, सीप्लसप्लस, जावा, जावास्क्रिप्ट और कोटलिन समेत सभी बड़ी लैंग्वेज को सपोर्ट करता है।