इतने अंकों के साथ पहले जगह पर हिंदुस्तान टीम, इसलिए हिंदुस्तान से पीछे है ऑस्ट्रेलिया 

इतने अंकों के साथ पहले जगह पर हिंदुस्तान टीम, इसलिए हिंदुस्तान से पीछे है ऑस्ट्रेलिया 

इंग्लैंड से चौथा टेस्ट जीतने के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने एशेज सीरीज में निर्णायक बढ़त ले ली है। अब यह तय हो गया है कि एशेज की ट्रॉफी उसके पास ही रहेगी।

लेकिन अच्छी बात यह है कि उसकी इस जीत से आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ने वाला है। हिंदुस्तान चैंपियनशिप में सबसे अधिक अंक लेकर टॉप पर है व वह अगले दो महीने तक हर हाल में टॉप पर ही बना रहेगा। ऑस्ट्रेलिया भले ही अगला टेस्ट मैच भी जीत ले, तब भी वह हिंदुस्तान के करीब भी नहीं पहुंचेगा।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) में वैसे हिंदुस्तान 120 अंकों के साथ पहले जगह पर है। हिंदुस्तान के अतिरिक्त कोई भी टीम 100 अंक का आंकड़ा नहीं छू सकी है। ऑस्ट्रेलिया व इंग्लैंड एशेज सीरीज के तीन मैच खेले जाने तक 32-32 अंक के साथ बराबरी पर थे। ऑस्ट्रेलिया ने चौथा टेस्ट जीत लिया है। इससे उसे 24 अंक मिले। अब उसके कुल 56 अंक हो गए हैं। श्रीलंका व न्यूजीलैंड 60-60 अंक के साथ संयुक्त रूप से दूसरे नंबर पर हैं।

टेस्ट चैंपियनशिप 1 अगस्त को प्रारम्भ हुई
आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप 1 अगस्त को प्रारम्भ हुई है। इस चैंपियनशिप में नौ टीमें को शामिल किया गया है। अभी इन नौ टीमों में से छह टीमों ने ही मैच खेले हैं। ये टीमें भारत, वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड व श्रीलंका हैं। पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका व बांग्लादेश को अभी चैंपियनशिप के मैच खेलने हैं।

भारत-ऑस्ट्रेलिया ने 2-2 मैच जीते
आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में शामिल राष्ट्रों में हिंदुस्तान व ऑस्ट्रेलिया दोनों ने ही दो-दो मैच जीते हैं। ऑस्ट्रेलिया ने चार में से दो मैच जीते, एक में उसे पराजय मिली व एक मैच ड्रॉ रहा। जबकि हिंदुस्तान ने अपने दोनों मैच जीते हैं। इसके बावजूद दोनों टीमों के अंक में बड़ा अंतर है।

इसलिए हिंदुस्तान से पीछे है ऑस्ट्रेलिया
टेस्ट चैंपियनशिप में प्वाइंट दिए जाने का फॉर्मूला स्पष्ट है। हर सीरीज में अधिकतम 120 अंक होते हैं। लेकिन ये अंक सीरीज के मैचों के मुताबिक कम-ज्यादा होते हैं। जैसे- दो मैचों की सीरीज में हर जीत पर 60 अंक मिलते हैं, जो हिंदुस्तान को मिले भी हैं। लेकिन पांच मैचों की सीरीज में एक जीत पर 24 अंक ही मिलते हैं, जैसे कि ऑस्ट्रेलिया को मिले। ऑस्ट्रेलिया को 8 अंक ड्रॉ के भी मिले हैं। इसलिए वह बराबर मैच जीतकर भी हिंदुस्तान से अंकों में बहुत पीछे हैं।