पाक चलने में लगा चाल, UNSC की मीटिंग से पहले इमरान खान ने ट्रंप को किया फोन

कश्‍मीर के मामले पर इस समय पाकिस्‍तान हिंदुस्तान के विरूद्ध हर संभव नापाक चाल चलने में लगा हुआ है। पहले उसने अपने अघोषित सरगना चाइनाके सामने गुहार लगाई।

पाकि‍स्‍तान के कहने पर ही चाइना ने ये मामला संयुक्‍त राष्‍ट्र में उठाया। चाइना के आग्रह पर ही यूएनएससी की एक बंद कमरे में रही मीटिंग में शुक्रवार को इस मामले पर चर्चा हो रही है। इधर मीटिंग से पहले पाकिस्‍तान के पीएम इमरान खान ने अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप को फोन किया है।

दोनों नेताओं के बीच करीब 12 मिनट तक वार्ता हुई। इस मीटिंग से पहले इमरान का डोनाल्‍ड ट्रंप को फोन करना बहुत ज्यादा अहम माना जा रहा है। बता दें कि कश्‍मीर मामले पर पाकिस्‍तान को चाइना के अतिरिक्त किसी भी बड़े मुल्‍क का साथ नहीं मिला है। ऐसे में यूएनएससी में इस मामले पर पाकिस्तान को किसी का भी साथ मिलने की आसार नहीं है।

पाकिस्‍तान अमेरिका की शरण में है। वह लगातार कह रहा है कि अमेरिका कश्‍मीर मामले पर मध्‍यस्‍थता करे। लेकिन हिंदुस्तान सरकार ने दो टूक कह दिया है कि ये हिंदुस्तान का अंदरूनी मसला है। उस समय डोनाल्‍ड ट्रंप की फजीहत हुई थी, जब उन्‍होंने कह दिया था कि हिंदुस्तान ने उनसे मध्‍यस्‍थता करने के लिए बोला है। हालांकि बाद में ये बात झूठी निकली।

अब पाकिस्‍तान व इमरान खान डोनाल्‍ड ट्रंप को कश्‍मीर में मध्‍यस्‍थता का लालच दे रहे हैं। इस बीच हिंदुस्तान ने कश्‍मीर की भौगोलिक परिस्थितियों को बदलकर पूरी बहस पर ही विराम लगा दिया है। पाकिस्‍तान इसी बात से खिसियाया हुआ है।