चाइना ने पाक का नाम लिए बिना बोला कि शिखर सम्मेलन में सुरक्षा व अर्थव्यवस्था से संबंधित मुद्दों पर की जाएगी बात

चाइना ने पाक का नाम लिए बिना बोला कि शिखर सम्मेलन में सुरक्षा व अर्थव्यवस्था से संबंधित मुद्दों पर की जाएगी बात

किर्गिस्तान के बिश्केक में शंघाई कॉरपोरेशन ऑर्गनाइजेशन समिट प्रस्तावित है। इस पर चाइना ने पाक का नाम लिए बिना बोला कि शिखर सम्मेलन में सुरक्षा व अर्थव्यवस्था से संबंधित मुद्दों पर बात की जाएगी। इसके साथ ही आंतकवाद का मामला भी उठाया जाएगा लेकिन इसका उद्देश्य किसी देश को लक्षित करना नहीं है।

चीन के उप विदेश मंत्री झांग हानहुई ने बोला है कि सुरक्षा व विकास दो मुख्य मामले होंगे। एससीओ की स्थापना किसी निश्चित देश को निशाना बनाने के लिए नहीं हुई है, किन्तु इस सम्मेलन में निश्चित रूप से वैश्विक संबंध व क्षेत्रीय मुद्दों पर ध्यान दिया जाएगा। उन्होंने ये भी बोला कि इस सम्मेलन में गत साल के कार्य की समीक्षा होगी व इस साल के लिए योजना तैयार की जाएगी।

13-14 जून को किर्गिस्‍तान की राजधानी बिश्‍केक में शंघाई योगदान संगठन (SCO) की शिखर मीटिंग प्रस्तावित है। इस मीटिंग में पीएम नरेंद्र मोदी, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन चाइना के राष्ट्रपति शी चिनपिंग व पाक के पीएम इमरान खान भी शिरकत करेंगे। इस दौरान एससीओ से इतर प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन व चाइना के राष्ट्रपति शी चिनपिंग से मुलाकात करेंगे, किन्तु पाक के पीएम इमरान खान के बीच कोई वार्ता नहीं होगी।