इन मैसेज का रिप्लाई करने पर खाली हो सकता है बैंक अकाउंट, जाने पूरी ख़बर

से संबंधित कोई मैसेज आता है तो थोड़ा सावधान हो जाइए क्योंकि यह फ्रॉड भी होने कि सम्भावना है व इसकी वजह से आपका Bank Account खाली होने कि सम्भावना है। कंप्यूटर व मोबाइल प्रोटेक्शन सॉफ्टवेयर बनाने वाली एक कंपनी ने बोला है कि इस तरह के मैसेज साइबर क्रिमिनल्स द्वारा भेजे जाते हैं।

Bank Detail हासिल करके ट्रांसफर कर लेते हैं पैसे-
आपसे बैंक डिटेल हासिल करने के लिए आपके नंबर पर एक मैसेज भेजा जाता है जिसमें गलत अकाउंट नंबर दिया होगा व आपसे बोला जाएगा कि अगर यह ठीक नहीं है तो ठीकअकाउंट नंबर अपडेट कर दीजिए। इस मैसेज में नीचे एक फर्जी लिंक भी दिया होगा। इस लिंक पर क्लिक करते ही आयकर की साइट जैसी दिखने वाली फ्रॉड साइट पर आप पहुंच जाएंगे। पुणे स्थित Quick Heal Technologies ने बताया कि जैसे ही आप बैंक डिटेल को एंटर करते हैं ये सारी जानकारी क्रिमिनल्स आपसे हासिल कर लेते हैं। इसके बाद फर्जी आई-टी डिपार्टमेंट एम्प्लॉई बनकर टैक्सपेयर को फोन करते हैं। ()रिफंड अमाउंट का देते हैं लालच-
ये जालसाज कॉल कर टैक्सपेयर को अनियमित आईटी रिटर्न का हवाला देते हुए फाइन भरने के लिए कहते हैं। इसके बाद बड़ी चालाकी से ये जालसाज आई-टी डिपार्टमेंट वेबसाइट के वास्तविक लॉगइन डीटेल के जरिए अपने शिकार के खाते से पैसों को अपने अकाउंट में ट्रांसफर कर लेते हैं। इतना ही नहीं ये साइबर अपराधी अकाउंट की डीटेल जैसे फोन नंबर, ईमेल आईडी को भी बदल देते हैं। ()
ऐसे करें बचाव-
ऐसे फर्जी मेसेज को फोन के इनबॉक्स में आने से तो नहीं रोका जा सकता, लेकिन कुछ सावधानी बरत कर ऐसी ठगी से बचा जरूर जा सकता है। क्वीक हील ने बताया कि ऐसे मेसेज आने पर किसी भी टैक्सपेयर को अपनी फाइनैंशियल डीटेल जैसे बैंक अकाउंट नंबर, पिन व ओटीपी बताते हुए रिप्लाई नहीं कर चाहिए। ऐसे फर्जी मेसेज में दिए गए लिंक या किसी अटैचमेंट को भी तब तक न क्लिक करें जब तक आप उस मेसेज के को लेकर कन्फर्म न हो जाएं।