नक्सलियों के पास विदेशी बंदूक बरामद, सुरक्षाकर्मियों ने जब्त किया भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद

नक्सलियों के पास विदेशी बंदूक बरामद, सुरक्षाकर्मियों ने जब्त किया भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद

छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले के अंतागढ़ में शुक्रवार रात एक मुठभेड़ में सुरक्षाकर्मियों ने 2 नक्सलियों को मार गिराया। मारे गए नक्सलियों के पास से सुरक्षाकर्मियों में भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद जब्त किया। जब्त किए गए हथियार में अमेरिकन मेड G-3 राइफल भी शामिल है। जिसे पाकिस्तानी आर्मी उपयोग करती है। इस राइफल का इस्तेमाल भारतीय सेना नहीं करती हैं। नक्सलियों के पास से विदेशी बंदूक बरामद होने के बाद से सुरक्षा एजेंसियां चौकन्ना हो गई हैं।

Image result for नक्सलियों का PAK कनेक्शन आया सामने

इससे पहले भी नक्सलियों के पाकिस्तानी सेना और पाकिस्तानी आतंकी संगठनों से संपर्क की खबरें आते रही है। पाकिस्तानी सेना और उसके आतंकी संगठन खालिस्तानी आतंकवादियों समेत इनसे जुड़े अलगाववादी संगठनों को आर्म्स और एम्युनिशन गैर कानूनी तरीके से उपलब्ध कराते आ रहे हैं। माना जा रहा है कि अब पाकिस्तानी सेना और उसके आतंकी संगठन ने नक्सलियों को आर्म्स और एम्युनिशन उपलब्ध कराना शुरू कर दिया है। छत्तीसगढ़ के डीजीपी डीएम अवस्थी का कहना है कि नक्सलियों के पास से बरामद जी 3 राइफल का इस्तेमाल भारतीय सुरक्षा बल नहीं करते हैं। इसका इस्तेमाल पाकिस्तानी सेना करती है। यह दूसरी बार है, जब माओवादियों के पास से पाकिस्तानी सेना द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली जी 3 राइफल बरामद हुई है। इससे पहले पिछले साल छत्तीसगढ़ पुलिस ने सुकमा में मुठभेड़ के बाद नक्सलियों के पास से जी 3 राइफल बरामद हुई थी।

गौरतलब है कि पिछले साल पुणे पुलिस ने अर्बन नक्सलियों के मामले की जांच के दौरान एक खत बरामद किया था। यह खत सुधा भारद्वाज द्वारा कामरेड प्रकाश को लिखा गया था। इस खत में एक बैठक में हिस्सा लेने वालों का जिक्र था। इस खत में कश्मीरी अलगाववादियों और उनके संगठनों का भी जिक्र था। इसमें लिखा था- 'कामरेड अंकित और कामरेड नवलखा कश्मीरी अलगाववादियों के संपर्क में हैं। कश्मीर में दुश्मनों द्वारा मानवाधिकार उल्लंघन के मामले को सोशल मीडिया और मीडिया के जरिए फैलाया जाना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट में पैलेट गन मामले में कानूनी मदद दी जाएगी, जिसके लिए कामरेड प्रशांत से संपर्क करना होगा।'