कई दंपत्ति जूझ रहे हैं इस समस्या से, जाने

 कई दंपत्ति  जूझ रहे हैं  इस समस्या से, जाने

आज कल दुनिया में इम्पोटेंसी (नपुंसकता) की समस्या में आश्चर्यजनक इजाफा देखने को मिल रहा है, कई दंपत्ति इस समस्या से जूझ रहे हैं। वर्तमान समय में अनियमित दिनचर्या और शुद्ध - स्वच्छ वातावरण ना मिलने को इस समस्या के बड़े कारण के रूप में देखा जा रहा है।

लेकिन इसके अलावा भी इसके कई कारण सामने आए हैं, जिनसे नपुंसकता फैल रही है।

इन्ही में से एक कारण है तंग अंतर्वस्त्र, दरअसल, तंग अंतर्वस्त्र पहनने से स्पर्म पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। तंग अंतर्वस्त्र से टेस्टिकल्स में गर्मी बढ़ जाती है, जिससे शुक्राणु ख़त्म होने लगते हैं। इससे बचने के लिए बॉक्सर पहनना आपके लिए लाभदायक साबित हो सकता है। इसके अलावा लैपटॉप और मोबाइल से निकलने वाला रेडिएशन भी आपके स्पर्म को काफी नुकसान पहुंचाता है। 

लैपटॉप को गोद में रखकर काम करने से भी आपके स्पर्म की क्वालिटी पर असर पड़ता है। इससे बचने के लिए लैपटॉप को गोद में रखकर काम ना करें। अगर खान पान की बात करें तो, सोया से बनी कोई भी चीज आपके लिए समस्या खड़ी कर सकती है। इसमें ईसोफ्लेवोन्स पाए जाते हैं जो स्पर्म की गुणवत्ता को नुकसान पहुंचते हैं। इसलिए सोया से बनी चिजों से दूरी बनाए रखने में ही भलाई है।