मौन व्रत से हो सकता है आप और आपके परिवार का सर्वनाश

मौन व्रत से हो सकता है आप और आपके परिवार का सर्वनाश

आजकल सब अपने बारे में सोचते है। कुछ लोगों ऐसे होते है जो निरन्तर बोलते रहते है उन्हें किसी की बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है वह सिर्फ खुद के ही बारे में सोचते है तो वहीं कुछ लोग ऐसे होते है जो अधिक बोलना पसंद नहीं करते यही नहीं बल्कि वह खुद की दुनिया में मग्न रहते है। लेकिन इन लोगों को कई बार इनकी चुप्पी इन्हें अधिक नुकसान दे जाती है जिसका ये अंदाज़ा भी नहीं लगा सकते है।

घातक सिद्ध होता है मौन:

जहां छल-कपट हो रहा हो, वहां पर मौन रहने से अधिक गंभीर अपराध और कुछ नहीं हो सकता क्योंकि गीता में भी कहा गया है कि अन्याय सहना अन्याय करने से ज्यादा बड़ा पाप है। अगर कोई मन बुद्धि व्यक्ति लगातार बोल रहा है तो वह चुप रहना उचित है लेकिन अपराध हो रहा है तो यह मौन घातक सिद्ध हो सकता है।

बेवकूफी है मौन:

कुछ लोग तो ऐसे भी होते है जो अपने खिलाफ हो रहें जुर्म को लेकर भी आवाज़ नहीं उठाते है, इनका मौन रहना का सबसे बड़ा कारण होता है। इनके अंदर का डर जो कि उन्हें बोलने की परमिशन नहीं देता है और ये खुद पर हुए जुर्म को सहते रहते है। कई जगह पर चुप रहना उचित माना गया है लेकिन हर जगह पर चुप रहना बेवकूफी माना गया है।


अपने दांतों से है प्यार तो सही Toothbrush का करे चुनाव, इन बतों का रखे ध्यान

अपने दांतों से है प्यार तो सही Toothbrush का करे चुनाव, इन बतों का रखे ध्यान

 Buying a Toothbrush: हर रोज नींद से जगने के बाद हम सबसे पहले जिस चीज का इस्तेमाल करते हैं वो है टूथब्रश. हम टूथब्रश का रोजाना इस्तेमाल करते हैं लेकिन हमारा कभी भी इस ओर ध्यान नहीं जाता है कि यह हमारे दांतो और मसूड़ों के लिए सही है या नहीं. यही वजह है कि इसे खरीदते समय हम सबसे ज्यादा लापरवाही कर जाते हैं. अक्सर हम सस्ते के चक्कर में खराब टूथब्रश खरीद लेते हैं.

लेकिन क्या आपको पता है कि अगर हमारा टूथब्रश सही नहीं होगा तो यह हमारे दांतो और मसूड़ों को भारी नुकसान पहुंचा सकता है. इसलिए टूथब्रश खरीदते समय कुछ बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए. ऐसे में हम यहां आपको बताएंगे कि आपको किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए. चलिए जानते हैं.

सॉफ्ट ब्रिसल्स चुनें- टूथब्रश वही अच्छा होता है जिसके ब्रिसल्स बिल्कुल सॉफ्ट हों. ऐसे ब्रिसल्स वाले टूथब्रश से मसूड़े डैमेज नहीं होते हैं. वहीं अगर टूथब्रश के ब्रिसल्स हार्ड होते हैं तो मसूड़े छुल जाते हैं जिसके कारण मसूड़ों में ब्लीडिंग होना, दर्द होना शुरू हो जाता है. इसलिए टूथब्रश खरीदते समय सॉफ्ट ब्रिसल्स वाला ब्रश ही चुनें.

ग्रिप वाले टूथब्रश- मार्केट में कई तरह के टूथब्रश उपलब्ध हैं जिनमें से कुछ में रबर ग्रिप होती है तो कुछ में नहीं होती हैं एक अच्छा ब्रश खरीदना चाहती हैं तो ग्रिप वाले ब्रश ही खरीदें क्योंकि यह पकड़ को बनाए रखने में मदद करते हैं और दातों बेहतर तरीके से साफ करते हैं.

ब्रांड का रखें ध्यान- बिना ब्रांड वाले ब्रश लेने बचें. इस तरह के टूथब्रश के ब्रसल्स से लेकर किसी तरह की टेस्टिंग नहीं हुई होती है और इन्हे सिर्फ बेचने के लिहाज से बाजार में उतारा जाता है. ऐसे में ये दांतों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकते हैं.