जानिए ओरल सेक्स और गले के कैंसर के बीच क्या हो सकता हैं संबंध

जानिए ओरल सेक्स और गले के कैंसर के बीच क्या हो सकता हैं संबंध

फोरप्ले के दौरान पार्टनर के यौन अंगों को चूमना ओरल सेक्स कहलाता है। आपको बता दें कि ओरल सेक्स मजेदार होने के बावजूद जोखिम भरा भी हो सकता है क्योंकि ओरल सेक्स करने की वजह से थ्रोट कैंसर या गले के कैंसर का खतरा बढ़ सकता है।

अगर आप भी ओरल सेक्स करते हैं तो आपके लिए भी ये जानना बहुत जरूरी है कि इससे किस तरह आप गले के कैंसर का शिकार बन सकते हैं और कैसे इससे बचा जा सकता है।

ओरल सेक्स और गले के कैंसर के बीच संबंध: ओरल सेक्स के दौरान ह्यूमन पैपिलोमा वायरस (एच.पी.वी) फैल सकता है जो कि कैंसर की आशंका को बढ़ाता है। कई देशों में यौन संचारित रोगों का प्रमुख कारण एच.पी.वी है। अगर आप ओरल सेक्स की वजह से गले के कैंसर से बचना चाहते हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखें, जैसे कि:

गले के कैंसर के लक्षण:- ओरल सेक्स की वजह से यदि गले में कैंसर हो तो निम्न लक्षण सामने आ सकते हैं-

मुंह में छाले या अल्सर होना जो कि तीन हफ्तों तक भी ठीक न हों

मुंह के नर्म ऊतक रंगहीन हो जाते हैं

निगलने में दर्द होता है

हमेशा लगता है कि गले में खाना फंस गया है

टॉन्सिल में सूजन होना

कुछ चबाते समय दर्द महसूस होना

गले में खराश और गला बैठने के साथ लगातार खांसी रहना

मुंह और होंठों पर सुन्नपन

मुंह में सूजन या दाने होना