इम्यूनिटी बढ़ाने व पाचन को स्वस्थ्य रखने में सहायक हैं रसम, पढ़े कैसे बनाएं

इम्यूनिटी बढ़ाने व पाचन को स्वस्थ्य रखने में सहायक हैं रसम, पढ़े कैसे बनाएं

इन दिनों बार-बार इम्यूनिटी बढ़ाने की बात की जा रही है. ऐसे में एक दक्षिण भारतीय डिश रसम की बात करना महत्वपूर्ण है. यह एक तरह का गर्म सूप है, जो पाचन के लिहाज से भी बहुत अच्छा है व इसे पीने वाले की इम्यूनिटी को भी लाभ होता है. 

1-दाल वाला रसम बनाने के लिए अरहर की दाल को पका लें. एक पैन में ऑयल में सरसों, करी पत्ता, हींग, मिर्च आदि तड़काएं. टमाटर डालकर एक मिनट पकाएं. टमाटर गलने के बाद दाल को मिलाकर हलकी आंच में 10-15 मिनट तक पका लें. इसमें इमली का पेस्ट स्वाद के अनुसार मिलाएं. जीरा, लहसुन, अदरक, काली मिर्च को दरदरा पीसकर दाल में मिला लें. स्वादानुसार नमक मिलाएं. रसम गाढ़ा लगे तो थोड़ा पानी व मिला लें. अलग से छौंक लगाने के लिए एक पैन में ऑयल या घी गर्म करें. इसमें सरसों, करी पत्ता, हींग, लाल मिर्च का तड़का लगाएं. इस तैयार तड़के को गर्म दाल में मिला कर ढक्कन बंद कर दें. गर्मागर्म रसम सर्व करें.
 
2-हर रसम में दाल का होना महत्वपूर्ण नहीं होता. इसमें काली मिर्च, जीरा, लहसुन व करी पत्ता होता है, जिससे रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. यह पाचन भी सुधारता है. यह फोलिक एसिड, विटामिन ए, बी-3, सी, जिंक, कॉपर, मैग्नीशियम, सेलेनियम, आयरन व कैल्शियम जैसे पोषक तत्वों का अच्छा स्रोत होता है. कई लोग इसमें सब्जियां भी मिलाते हैं.

3-तमिल स्टाइल वाले रसम में काली मिर्च, जीरा, लहसुन और अदरक को पीस लें. इमली के रस में टमाटर को कुचल कर डालें. ऑयल गर्म कर सरसों, हींग, लाल मिर्च डालें, प्याज डालकर भूनें. लहसुन वाला पेस्ट डालें. इमली का रस डाल कर कुछ देर पकाएं. तीन-चार कप पानी, नमक, धनिया-हल्दी मिलाकर धीमी आंच पर पकाएं. करी पत्ता डालें. सर्व करें.