टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया से करे अपने मसूड़ों का इलाज

टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया से करे अपने मसूड़ों का इलाज

अनियमित खानपान, जल्दबाजी में ब्रश करना जैसी चीजों के कारण मसूड़ों में सूजन, दांतों में दर्द जैसी समस्या हो सकती है। खासकर मसूड़ों की सूजन इन दिनों बहुत ज्यादा आम हो चुकी है। मसूड़ों की सूजन में बहुत तेज दर्द होता है।

 इसकी वजह से खाना चबाने, कुछ भी खाने या पीने पर झंझनाहट जैसी समस्याएं हो सकती हैं। कुछ मामलों में सूजन के कारण मसूड़ों से खून भी आने लगता है।

मसूड़ों की समस्या से निजात पाने के लिए अक्सर लोग मार्केट में मिलने वाले टूथ पेस्ट, माउथवॉश का प्रयोग करते हैं। मार्केट में मिलने वाले प्रोडक्ट्स मसूड़ों की सूजन को कम करने का दावा तो करते हैं लेकिन इसमें बेहद समय लेते हैं। इसलिए मसूड़ों की सूजन को समाप्त करने का सबसे बेस्ट उपाय है घरेलू नुस्खा। इसलिए आज हम आपके लिए लेकर आए हैं मसूड़ों की सूजन को समाप्त करने के सबसे बेस्ट नुस्खे

नमक का पानी

नमक के पानी में कई सारे गुण पाए जाते हैं, जो इंफेक्शन से दांतों को बचाते हैं। मसूड़ों की सूजन को समाप्त करने के लिए गुनगुने पानी में आधा चम्मच नमक मिलाकर उससे कुल्ला करें। नियमित तौर पर नमक के पानी से कुल्ला करने से मसूड़ों की सूजन समाप्त हो सकती है। इतना ही नहीं नमक का पानी मसूड़ों के बैक्टीरिया को भी समाप्त कर देता है। लहसुन

जब भी बात सर्दी व खांसी को समाप्त करने की आती है तो भारतीय घरों में लहसुन का प्रयोग किया जाता है। लहसुन जितना सर्दी- खांसी को समाप्त करने में सहायक है उतना ही मुंह के बैक्टीरिया को समाप्त करने की क्षमता रखता है। मसूड़ों की सूजन कम करने के लिए लहसुन की कलियों को छिलकर पीस लें व दांतों, मूसड़ों पर लगाकर रखें। 10 से 15 मिनट तक लहसुन के पेस्ट को लगाने के बाद कुल्ला करें। हफ्ते में 2 से 3 बार लहसुन को इस तरह से प्रयोग करके आप मसूड़ों की समस्या से निजात पा सकते हैं।

लहसुन का प्रयोग करने वाले लोगों को होने कि सम्भावना है कि आरंभ के कुछ दिनों में मुंह से बदबू की समस्या आए। इसके लिए माउथफ्रेशनर का प्रयोग करें। अगर, आपके मसूड़ों के दर्द की समस्या ज्यादा बढ़ती है तो अपने चिकित्सक से सम्पर्क करें।