इस वजह से महिलाएं पुरूषों की तुलना मे होती है कम कामुक

इस वजह से  महिलाएं पुरूषों की तुलना मे होती है कम कामुक

सेक्स करने की इच्छा सिर्फ लड़को को ही नहीं लड़कियों को भी होती है. लेकिन कहने से कतराती है. कई बार देखा जाता है कि महिलाएं अपनी इच्छाओं को दबा देती हैं. अपने पार्टनर से भी कई बार वो शारीरिक संबंध पर खुलकर बात नहीं करती.

लेकिन आज के समय की बात करें तो महिलाएं ऐसा नहीं करती. आमतौर पर यह माना जाता रहा है कि पुरूष महिलाओं की तुलना मे सेक्स मे अधिक रूचि लेते हैं. एक शोध यह बताता है कि एक पुरूष औसतन दिन मे 34 बार सेक्स के बारे मे सोच लेता है. वहीं महिलाओं की सोच के बारे में भी बातें सामने आई है. 

महिलाएं कितनी बात सोचती है:

वहीं महिलाएं एक दिन के अंदर केवल 18 बार ही सेक्स के बारे मे सोचती हैं. इस शोध के आंकड़े देखकर यही लगता है कि महिलाएं पुरूषों की तुलना मे कम कामुक होती हैं. लेकिन सेक्स पर काफी कम ध्यान देती हैं. लेकिन जरा हटके देखें तो सभी महिलाएं भी एक जैसी नहीं होती हैं. यह आंकडे जो शोध के अंदर बताए गए हैं. यह भी मात्र आधा ही सच है. जबकि कहा जाता है कि महिलाएं अपनी इच्छाएं छुपा लेती है. 

दबी रहती है महिलाओं की इच्छा:

कुछ महिलाएं ऐसी भी होती हैं जोकि हर वक्त सेक्स के बारे मे सोचती रहती हैं. हांलाकि इस तरह की महिलाओं की संख्या काफी कम हैं. और भारत के अंदर महिलाओं की सेक्स इच्छा दबी रहती है सो इसका असर उनकी सोच पर भी पड़ता है.