WHO ने कहा- ब्रिटेन में मिला वायरस का नया स्ट्रेन 50 और साउथ अफ्रीका में मिला वैरिएंट 20 देशों तक पहुंचा

WHO ने कहा- ब्रिटेन में मिला वायरस का नया स्ट्रेन 50 और साउथ अफ्रीका में मिला वैरिएंट 20 देशों तक पहुंचा

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) के मुताबिक, सबसे पहले ब्रिटेन में मिला कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन अब तक 50 देशों में पहुंच चुका है। वहीं, साउथ अफ्रीका में मिले दूसरे वैरिएंट की 20 देशों में पुष्टि हो चुकी है। ऑर्गेनाइजेशन ने जापान में मिले तीसरे वैरिएंट पर भी चिंता जताते हुए कहा है कि यह इम्यून रिस्पॉन्स पर असर डाल सकता है। इसकी और जांच की जरूरत है।

WHO ने कहा कि कोरोना वायरस जितना ज्यादा फैलता है, उसके उतने ही बदलने के चांस होते हैं। बड़े पैमाने पर इसके फैलने का मतलब है कि इसके और वैरिएंट सामने आ सकते हैं। यही वायरस कोरोना का कारण बनता है। ब्रिटेन में पहली बार 14 दिसंबर को नए स्ट्रेन का केस सामने आया था। इसे VOC 202012/01 नाम दिया गया है।

इसके टेस्ट रिजल्ट से पता चला कि यह हर उम्र और लिंग के लोगों पर एक जैसा फैलता है। हालांकि, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग से सामने आया कि इसके फैलने की दर सामान्य वायरस से ज्यादा है। वहीं, पहली बार 18 दिसंबर को साउथ अफ्रीका में मिला 501Y.V2 वैरिएंट अब 20 देशों में पाया गया है।

'दोनों वैरिएंट को कम करके आंका गया'

WHO की वीकली रिपोर्ट में कहा गया है कि साउथ अफ्रीका में चल रही शुरुआती जांच से यह मुमकिन है कि 501Y.V2 वैरिएंट पहले वाले के मुकाबले ज्यादा फैलने वाला हो। इसके अलावा, यह नया वैरिएंट ज्यादा गंभीर बीमारी का कारण नहीं बनता है। हालांकि नए केस की संख्या तेजी से बढ़ने के कारण हेल्थ सिस्टम पर दबाव बढ़ जाता है। WHO ने कहा कि दोनों वैरिएंट के दुनिया में फैलाव को कम करके आंका गया है।

दुनिया में नौ करोड़ 21 लाख मरीज

दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 9.21 करोड़ के ज्यादा हो गया। 6 करोड़ 80 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 19 लाख 73 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। CNN ने जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के हवाले से बताया है कि अमेरिका में मरने वालों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है।

श्रीलंका में नए वैरिएंट का पहला केस मिला

कोरोना का नया स्ट्रेन श्रीलंका भी पहुंच गया है। यहां एक ब्रिटिश नागरिक में इसकी पुष्टि हुई है। हेल्थ मिनिस्ट्री के अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि संक्रमित मरीज एक या दो सप्ताह पहले देश में आया था। आगे की जांच चल रही है। श्रीलंका में अब तक कोरोना वायरस के 49 हजार से ज्यादा केस का पता चला है। 244 मरीजों की मौत हो चुकी है।

US जाने वालों को कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी

अमेरिका ने देश में आने वाले लोगों के लिए यह बताना जरूरी कर दिया है कि उन्हें कोरोना नहीं है। 26 जनवरी से यह सिस्टम काम करने लगेगा। अमेरिका में कोरोनो के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। साथ ही उसे नए स्ट्रेन का डर भी सता रहा है।

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के मुताबिक, अमेरिका में आने वाले हर शख्स को कोरोना नेगेटिव होने का पेपर या इलेक्ट्रोनिक प्रूफ दिखाना होगा। यह रिपोर्ट तीन दिन से ज्यादा पुरानी नहीं होना चाहिए। यह ऑर्डर CDC के डायरेक्टर रॉबर्ट रेडफील्ड ने मंगलवार को जारी की है।

अमेरिका में एक दिन में चार हजार लोगों की मौत

अमेरिका में बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन के बावजूद कोरोना के केस बढ़ रहे हैं।

अमेरिका में वैक्सीनेशन ड्राइव के बावजूद संक्रमण ही नहीं मौतों का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। मंगलवार को यहां करीब चार हजार लोगों की मौत हो गई। यह जानकारी CNN ने जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के हवाले से दी है।

अमेरिका में अब तक कुल मिलाकर 3.89 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। मंगलवार को दो लाख 22 हजार के करीब नए मामले भी सामने आए। अमेरिका में अब तक करीब 9 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

नीदरलैंड्स में लॉकडाउन बढ़ा
नीदरलैंड्स सरकार ने साफ कर दिया है कि देश में फिलहाल जो पाबंदियां लागू हैं, उनमें किसी तरह की ढील नहीं दी जाएगी और लोगों को पांबदियों का सख्ती से पालन करना होगा। हेल्थ मिनिस्ट्री ने हाई अलर्ट जारी रखा है और लॉकडाउन तीन हफ्ते बढ़ा दिया है। सरकार ने एक बयान में कहा- यह बात सभी जानते हैं कि हमारे पास फिलहाल और कोई रास्ता भी नहीं है। संक्रमण कम नहीं हो रहा है। देश में कोरोनावायरस का नया वैरिएंट भी मिल चुका है। इसको लेकर हम ज्यादा फिक्रमंद हैं।

फ्रांस में राहत के संकेत
फ्रांस सरकार के प्रवक्ता गेब्रियलस एटल ने कहा है कि देश में अब और लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। यूरोप 1 रेडियो स्टेशन को दिए इंटरव्यू में एटल ने कहा- हमने बहुत संयम के साथ दो लॉकडाउन का पालन किया और कराया है। देश के लोगों की वजह से ही हम हालात को काबू में करने में सफल रहे हैं। लिहाजा, अब और लॉकडाउन की जरूरत नहीं है। लेकिन, हालात न बिगड़ें इसलिए हेल्थ डिपार्टमेंट की गाइडलाइन्स का पालन जरूर करना होगा। वरना हालात फिर खराब हो सकते हैं। फ्रांस सरकार ने बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन प्रोग्राम भी शुरू कर दिया है। इस महीने के आखिर तक 20 लाख लोगों को वैक्सीनेट करने का प्लान बनाया गया है।


पाकिस्तान कंगाल, पाई-पाई को हुआ मोहताज

पाकिस्तान कंगाल, पाई-पाई को हुआ मोहताज

नई दिल्ली: पाकिस्तान इन दिनों आर्थिक तंगी का सामना कर रहा है यह बात अब पूरी दुनिया के सामने है। पाकिस्तान के ऊपर इतना कर्ज हो गया है कि वह चीन, संयुक्त अरब अमीरात और मलेशिया समेत तमाम देशों के कर्ज तले दब गया है। ये सारे देश अब अपना पैसा वापस मांगने लगे हैं। इस बीच, कंगाल पाकिस्तान की इमरान सरकार अब राजधानी इस्लामाबाद के सबसे बड़े पार्क को गिरवी रखकर 500 अरब रुपये का कर्ज लेगी। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट से यह जानकारी मिली।

एफ-9 पार्क मोहम्मद अली जिन्ना की बहन फातिमा जिन्ना के नाम से है
पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्ट से जानकारी मिली है कि पार्क को गिरवी रखने का यह प्रस्ताव मंगलवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक में रखा जाएगा। एफ-9 पार्क की पहचान पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की बहन ‘मादर-ए-मिल्लत’ (मदर ऑफ नेशन) फातिमा जिन्ना के नाम से है। यह पार्क 759 एकड़ में फैला है। यह पाकिस्तान में सबसे बड़े हरे-भरे इलाके में से एक है।

एफ-9 पार्क को गिरवी रखेगी इमरान सरकार
रिपोर्ट के मुताबिक, ‘फातिमा जिन्ना पार्क’ को गिरवी रखने के लिए बैठक वीडियो लिंक के जरिए होगी, जिसे इमरान खान के कार्यालय की ओर से आयोजित किया जाएगा। इस प्रस्ताव पर मंगलवार को चर्चा होगी। रिपोर्ट में कहा गया है कि वित्तीय कंगाली की वजह से इमरान खान सरकार ने संघीय सरकार की संपत्ति एफ-9 पार्क को गिरवी रखेगी। इससे उसे 500 अरब रुपये लोन मिल जाएगा।

पहले भी संस्थानों और इमारतों को गिरवी रख चुकी है इमरान सरकार
इस्लामाबाद की कैपिटल डिवलपमेंट अथॉरिटी ने इस संबंध में पहले ही अनापत्ति प्रमाणपत्र हासिल कर लिया है। इससे पहले भी पाकिस्तान की कई सरकारें विभिन्न संस्थानों और इमारतों को गिरवी रख चुकी हैं, लेकिन इस बार इमरान सरकार मोहम्मद अली जिन्ना की बहन के नाम पर बने पार्क को गिरवी रखने जा रही है।

चीन भी अब पाकिस्तान को कर्ज देने में आनाकानी कर रहा
प्रधानमंत्री इमरान खान ढाई साल सरकार चलाने के बाद भी देश के खस्ता आर्थिक हालात के लिए पिछली सरकारों को जिम्मेदार बता रहे हैं। पाकिस्तान में हालात यहां तक पहुंच गए हैं कि सरकारी कर्मचारियों को तनख्वाह देने के लिए भी इमरान खान सरकार को जोड़ तोड़ करनी पड़ रही है। पाकिस्तान का सबसे बड़ा ‘दाता’ सऊदी अरब और यूएई अपने कई बिलियन डॉलर के कर्ज को वापस मांग रहे हैं। वहीं, पाकिस्तान के सदाबहार दोस्त चीन भी अब पाकिस्तान को कर्ज देने में आनाकानी कर रहा है।

दोस्त बना दुश्मन
पिछले कुछ वर्षों में पाकिस्तान और मलेशिया के बीच जो दोस्ताना केमेस्ट्री नजर आ रही थी, पाकिस्तान की गरीबी की वजह से उसमें दरार पड़ने लगी है। मलेशिया के स्थानीय कोर्ट की तरफ से दिए गए आदेश के बाद कुआलालंपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) के एक विमान को यात्रियों समेत रोक लिया। मलेशिया ने पीआईए पर बची धनराशि न देने का आरोप लगाया। विमान को एयरक्राफ्ट से जुड़े लीज के मसले की वजह से रोका गया था। हालांकि, बाद में विमान को जब्त कर यात्रियों को उनके हाल पर छोड़ दिया गया।


वास्तुशास्त्र के अनुसार इस दिशा में बैठकर भोजन करना है लाभदायक       11 या 26 व्रत हो चुके हैं पूरे तो कल करें उद्यापन, जानें विधि       महिलाओं को नहीं करने चाहिए ये काम, शास्त्रों में है मनाही       घर में बरकत नहीं होने देती टूटी चप्पल       सोशल मीडिया पर इस मासूम लड़की ने पढ़ाया जीवन का ऐसा ‘पाठ’, लोगे बोले...       गणतंत्र दिवस पर किसने दी दिल्ली में बिजली काटने की धमकी       वरुण-नताशा ने गेस्ट के साथ की जमकर मस्ती, यहां देखें अनदेखी तस्वीरें       बंद हो रहा है कपिल शर्मा का शो, फैंस के लिए बड़ा झटका!       Bigg Boss 14 : घर से बाहर आने के बाद सोनाली फोगाट के साथ डेट पर जाएंगे अली       शादी पर वरुण को खास गिफ्ट देने वेडिंग वेन्यू पर गया था जबरा फैन       फैंस हुए वरुण और नताशा की जोड़ी के दीवाने, कहा- इसे कहते हैं सच्चा प्यार       कोरोना पर वैज्ञानिक की चेतावनी, लगातार रूप बदल रहा वायरस       ममता बनर्जी के घर के पास बिखरे नोट बटोरने के लिए पहुंचे सैकड़ों लोग       पाकिस्तान कंगाल, पाई-पाई को हुआ मोहताज       LAC पर भारत-चीन में बढ़ी टेंशन, ठंड के बाद बढ़ेगी झड़प       ट्रक ड्राइवर के पीछे बैठा था जहरीला सांप, फुफकार सुन पलटा       ऐसा पहला राज्य बना यूपी, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर तैयार हो रही एयरस्ट्रिप       ATM बना कुबेर खजाना, नोटों की बारिश बटन दबाते ही, लूटम-लूट मच गई       हत्याओं से दहला यूपी: जमीन विवाद से परिवारों में मचा मातम       मदरसों के मुद्दे पर दुविधा में फंसी कांग्रेस, असम में भाजपा ने घुसपैठ को बनाया हथियार