सोशल मीडिया पर फैल रही है ये अफवाहें

सोशल मीडिया पर फैल रही है  ये अफवाहें

जानलेवा नोवल कोरोना वायरस ( Coronavirus ) निमोनिया (कोविड-19) के कारण चाइना ( China ) समेत दुनिायभर में हाहाकार मचा हुआ है. यह वायरस तेजी के साथ फैल रहा है. लिहाजा इसे रोकने के लिए तमाम कोशिशें की जा रही है. लेकिन कुछ अभवाहों के कारण लोग भ्रमित हो रहे हैं व इसके कारण लोगों में दहशत भी फैल रही है.

ऐसे में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए फर्जी सूचनाओं को पर्दाफाश करना सबसे जरूरी है. शंघाई में, ऑफिसर व मीडिया महामारी ( Epidemic ) के मद्देनजर बेवजह की भय को खत्म करने के लिए अफवाहों व गलत सूचनाओं को उजागर करने में लगे हुए हैं. लोकल प्रशासन पारदर्शिता बनाए रखने के लिए रोजाना प्रेस बातचीत आयोजित कर रहा है.

इस मामले में शंघाई म्यूनिसिपल इंटरनेट इंफोर्मेशन ऑफिस, जियाफांग डेली औनलाइन प्लेटफार्म 'रयूमर बस्टर' के साथ मिलकर तथ्यों की जाँच व महामारी से संबंधित सूचनाओं को अपडेट कर रहा है.

सोशल मीडिया पर फैल रही है अफवाहें

ग्लोबल टाइम्स ने हाल ही में कई अफवाहों पर संज्ञान लिया था, जो हाल ही में शंघाई में सर्कुलेट हो रहे थे. संबंधित सरकरी विभागों ने हालांकि इन अफवाहों का पर्दाफाश कर दिया है.

इनमें से एक अफ़वाह के तहत, शंघाई के मिनहांग जिले में दो व्यक्तियों ने मंगलवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो सुर्केलेट किया, जिसमें एक आदमी को उसके आवासीय इमारत से छलांग लगाते हुए देखा जा सकता है. दोनों ने दावा किया कि इमारत से छलांग लगाने वाला आदमी वुहान के हुबाई प्रांत का है, जो इस महामारी का केन्द्र है व अस्पताल में 14 दिनों तक अलग रखे जाने के डर (क्वारंटाइन) की वजह से उसने छलांग लगाई है.

लेकिन मिनहांग पुलिस ने अपने आधिकारिक वीइबो खाते पर स्पष्ट करते हुए बोला कि आदमी ने 14 दिनों तक अलग कमरे में रखे जाने के डर से नहीं, बल्कि अपने कर्जो की वजह से इमारत से छलांग लगाई थी. पुलिस ने अफ़वाह फैलाने वाले दोनों लोगों को अरैस्ट कर लिया है. पुलिस ने बोला कि जिस आदमी ने आत्महत्या करने की प्रयास की थी, वह अभी खतरे से बाहर है.

coronavirus s संक्रमितों की पहचान करेगा ये ऐप, चाइना ने लॉंच किया 'क्लोज कॉन्टैक्ट डिटेक्टर'

उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस की वजह से चाइना में अबतक 1367 लोगों की मृत्यु हो चुकी है व हजारों लोगों में इस वायरस की पुष्टि हो चुकी है. चाइना ही नहीं, संसार के कई देश भी इस वायरस से प्रभावित हैं व लोगों में इसे लेकर डर व्याप्त है.