सेवानिवृत्त पाकिस्तानी पुलिस ऑफिसर को अमेरिका ने किया ब्लैकलिस्ट, जाने क्या थी वजह

सेवानिवृत्त पाकिस्तानी पुलिस ऑफिसर को अमेरिका ने किया ब्लैकलिस्ट, जाने क्या थी वजह

सेवानिवृत्त पाकिस्तानी पुलिस ऑफिसर राव अनवर अहमद खान को मानवाधिकार के गंभीर उल्लंघन के मुद्दे में अमरीका की काली सूची में डाल दिया है. अमरीकी वित्त मंत्रालय के अनुसार पाक के सिंध प्रांत के मलिर जिले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पर हत्याएं करने का आरोप है.

वित्त मंत्रालय के अनुसार ऑफिसर मलिर में लगातार फर्जी पुलिस एनकाउंटर ों को अंजाम देने के लिए जिम्मेदार है. इसमें कई लोग मारे गए. उन पर भूमि-अधिग्रहण,मादक पदार्थ की तस्करी व मर्डर का भी आरोप है. मंत्रालय के एक वरिष्ठ ऑफिसर ने पत्रकारों से बोला कि अनवर ने मलिर जिले में 190 से अधिक एनकाउंटर ों को अंजाम दिया. इसमें 400 से अधिक लोग मारे गए थे. इनमें से अधिकांश न्यायेतर हत्याएं थी.

अधिकारी ने बोला कि अनवर पुलिस व क्रिमिनल और ठगों के नेटवर्क का भी प्रमुख था. वह भमि-अधिग्रहण, मादक पदार्थ की तस्करी व मर्डर करने जैसे अपराधों में शामिल था. अमरीकी के इस कदम का पाक ने स्वागत किया है. 'वॉइस ऑफ कराची के प्रमुख नदीम नुसरत ने अमरीकी वित्त मंत्रालय के निर्णय का स्वागत किया व बोला कि वैश्विक स्तर पर मानवाधिकार की रक्षा करने की दिशा में यह ऐतिहासिक कदम है.

नुसरत ने बोला कि वॉइस ऑफ कराची की अपनी टीम व शहरी सिंध में रहने वाले चार करोड़ लोगों की ओर से मैं विश्वस्तर पर मानवाधिकार के हनन करने में शामिल राव अनवर व अन्य के विरूद्ध अमरीकी वित्त मंत्रालय के कदम का स्वागत करता हूं.