पाकिस्‍तान पीएम इमरान खान की महंगाई ने बढ़ाई मुश्किलें, जाने खाई यह बड़ी मुकी

पाकिस्‍तान पीएम इमरान खान की महंगाई ने बढ़ाई मुश्किलें, जाने खाई यह बड़ी मुकी

दिन और दिन बढ़ती जा रही महंगाई ने पाक की नीव हिला कर रख दी है वहीं आलम ये है कि देश में लगातार बढ़ रही महंगाई दर अब 14.56 फीसद तक जा पहुंची है। इसकी वजह से हर रोज लोगों की मुश्किलें बढ़ रही है। 

पिछले एक साल की बात करें तो देश में दूध, रोटी, नान, ब्रेड, मक्‍खन, मटन, चिकन, फल व सब्‍जी के दामों में जबरदस्‍त उछाल देखने को मिला है। इमरान खान के पीएम बनने के बाद से यहां के लोग हर रोज एक नया रिकार्ड बनाने वाली महंगाई की मार को झेलने पर विवश हैं। पाकिस्‍तान में जानकारों की मानें तो महंगाई दर आने वाले समय में 20 फीसद का भी आंकड़ा छू सकती है। आपको यहांं पर ये भी बता दें कि इस एक दशक के दौरान सिर्फ महंगाई ही नहीं बल्कि पाकिस्‍तान पर लोन भी करीब तीन गुणा बढ़ गया है। महंगाई व लोन में डूबे पाकिस्‍तान का एक मजाकिया पहलू ये भी है कि इमरान खान जब सत्‍ता में आए थे तो उन्‍होंने वहां की जनता को नया पाकिस्‍तान बनाने का सुनहरा ख्‍वाब दिखाया था। लेकिन दो साल बाद इस ख्‍वाब की सच यहां के लोगों के चेहरे पर साफ दिखाई दे रही है।

2010-11 में थी इतनी महंगाई : वहीं यह भी बोला जा रहा है कि पाकिस्‍तान के सरकारी आंकड़ों की मानें तो दिसंबर में महंगाई दर (कंज्‍यूमर प्राइस इंडेक्‍स) 12.63 फीसद पर थी। इसकी वजह दाल, चिकन, सब्‍जी की कीमतों में तेजी को माना गया था। इसने यहां के लोगों की रसोई का बजट पूरी तरह से बिगाड़ कर रख दिया था। वहीं जनवरी में महंगाई दर बढ़कर 13.25 फीसद पर पहुंच गई थी। अब फरवरी की एक तारीख को यह 14.56 फीसद पर रिकॉर्ड की गई है। 1994-95 व 2010-11 के दौरान भी पाकिस्‍तान में लगभग यही महंगाई दर रिकॉर्ड की गई थी।

इमरान सरकार की देन है रिकॉर्ड तोड़ महंगाई:जानकारी के लिए हम आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि इमरान खान ने 17 अगस्‍त 2018 को पाकिस्‍तान के पीएम के तौर पर शपथ ली थी। पीएम बनने के महज 8 माह के अंदर ही महंगाई बीते पांच सालों का रिकॉर्ड तोड़कर 8.21 फीसद से बढ़कर 9.41 फीसद तक पहुंच गई थी। वहीं इसकी वजह से तेल, खाने-पीने की चीजों की कीमतों में जबरदस्‍त इजाफा हुआ था। तब से लेकर अब तक महंगाई लगातार बढ़ रही है।