पाकिस्तानी इन सरकारी ऑफिसर ने कोरोना संक्रमितों के साथ किया यह बड़ा काम

पाकिस्तानी इन सरकारी ऑफिसर ने कोरोना संक्रमितों के साथ किया यह बड़ा काम

पूरी संसार में महामारी बन चुके कोरोना वायरस के नाम से अब लोग खौफजदा हो रहे हैं व इससे कोसों दूर रहने की प्रयास कर रहे हैं. इस बीच पाक से एक ऐसी समाचार सामने आई है, जो बहुत ही दंग करने वाला है.

दरअसल, पाक के कुछ सरकारी ऑफिसर कोरोना संक्रमितों के साथ सेल्फी लेते नजर आए. पाकिस्तानी मीडिया में आई समाचार में ये जानकारी दी गई है कि रेवेन्यू विभाग के अधिकारियों ने संक्रमितों के साथ सेल्फी ली, जिसकी चर्चा अब दुनियाभर में हो रही है.

पाकिस्तानी अखबार डॉन (Dawn) ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि मुद्दा सामने आने के बाद डिप्टी कमिश्नर ने रेवेन्यू विभाग के 6 अधिकारियों को सस्पेंड करने का आदेश दिया है.

सोशल मीडिया पर पोस्ट की सेल्फी

रिपोर्ट में बताया गया है कि ये लोग ईरान से आए अपने एक साथी से मिलने उसके घर गए थे. जब सभी लोग अपने दोस्त से मुलाकात करने उनके घर पहुंचे तो वह क्वारंटीन था. लगातार उसकी स्वास्थ्य पर नजर रखी जा रही थी.

सभी ऑफिसर अपने दोस्त से मिलने के बाद यादगार के लिए एक ग्रुप सेल्फी ली व उसे सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया. सोशल मीडिया पर पोस्ट होने के बाद उनकी फोटो एक लोकल अखबार में भी छप गई. बाद में ईरान से लौटे शख्स की मृत्यु हो गई जो कि कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. शख्स की मृत्यु के बाद 6 अधिकारियों को लापरवाही बरतने के आरोप में सस्पेंड कर दिया है. इन सभी अधिकारियों को भी कोरोना की संभावना के चलते क्वारंटीन में रखा गया है.

सभी ने अपने आरोप को स्वीकार भी कर लिया है कि वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए शख्स से मिले थे व सेल्फी भी ली थी. साथ ही सोशल मीडिया पर शेयर भी किया था. बता दें कि यह घटना सिंध प्रदेश के खैरपुर जिले की है. जिस आदमी के साथ सेल्फी ली गई, वह ईरान से लौटा था व सस्पेंड किए गए अफसरों का दोस्त था.

पाकिस्तान में 1000 से ज्यादा केस

आपको बता दें कि पाक में कोरोना के मुद्दे लगातार तेजी के साथ बढ़ते जा रहे हैं. अब संक्रमितों की संख्या 1000 पार कर गई है, जबकि मरने वालों की संख्या 7 हो गई. पाक में कोरोना का सबसे अधिक प्रभाव सिंध प्रांत में देखने को मिल रहा है. सिंध में अब तक 410 मुद्दे सामने आ चुके हैं.

इधर कोरोना के बढ़ते मुद्दे को देखते हुए 22 मार्च से सारे सिंध में दो हफ्ते के लिए लॉकडाउन किया गया है. इसके बावजूद भी लोग घरों से निकल रहे हैं व सरकार के आदेश को नहीं मान रहे हैं.

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने देश के आर्थिक दशा का हवाला देते हुए सारे देश में लाकडाउन करने से मना कर दिया है. उन्होंने बोला कि यदि लाकडाउन किया तो भूखमरी के दशा पैदा हो जाएंगे.