पाक ने किया बड़ा ऐलान,  ईरान व अमरीका के बीच जारी घमासान का नहीं होगा भाग

पाक ने किया बड़ा ऐलान,  ईरान व अमरीका के बीच जारी घमासान का नहीं होगा भाग

 ईरान व अमरीका के बीच जारी घमासान ( US Iran tension ) के बीच पाक की ओर से लगातार ऐसे इशारा मिल रहे हैं कि वो इस मामले में दखल नहीं देगा. पहले पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी व अब पीएम इमरान खान ( Imran Khan ) ने भी इस मामले पर अपना रूख जाहिर कर दिया है. गुरुवार को एक बयान में इमरान ने बोला कि पाक फिर किसी दूसरे देश के युद्ध में शामिल नहीं होगा.

पाकिस्तान बनेगा मुस्लिम राष्ट्रों के लिए उदाहरण

इमरान ने बयान में आगे बोला कि पाक अन्य मुस्लिम राष्ट्रों के लिए उदाहरण पेश कर उनका नेतृत्व करेगा. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि अमरीकी हमले में ईरान के शीर्ष सैन्य कमांडर कासिम सुलेमानी की मृत्यु हो गई. इसके बाद से ही पश्चिम एशिया में तनाव की स्थिति है. इमरान ने इसी पृष्ठभूमि के मद्देनजर यह बयान दिया है.

 

अपनी विदेश नीति में गलती करता आ रहा है पाकिस्तान

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स में इमरान के बयान के हवाले से बोला गया कि पाक हमेशा से दूसरों के युद्धों में शामिल होकर अपनी विदेश नीति में गलती करता आ रहा है. आपको बचा दें कि इमरान अपनी महत्वाकांक्षी कौशल विकास प्रोग्राम की आरंभ करने पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान कभी भी किसी अन्य देश के युद्ध में भाग नहीं लेगा.' आपको याद दिलाते चलें कि इमरान ने पहले भी भिन्न-भिन्न मौकों पर इस बात का जिक्र किया है कि पाक को दूसरे राष्ट्रों में प्रयत्न करने से बहुत ज्यादा क्षति हुई है.

 

पाक को बहुत ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा

इससे पहले भी इमरान ने बोला था कि 1980 के दशक में अफगान जिहाद व 9/11 हमले के बाद आतंक के विरूद्ध अमरीका के नेतृत्व वाले युद्ध के दौरान अग्रिम देश के रूप में अपनी किरदार के कारण पाक को बहुत ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा है.