उत्तर कोरिया परमाणु परीक्षण करके ही दम लेगा : किम जोंग

उत्तर कोरिया परमाणु परीक्षण करके ही दम लेगा :  किम जोंग

उत्तर कोरिया की आर्थिक दशा भलें ही खस्ता हो गई हो लेकिन तानाशाह किम जोंग उन का परमाणु मिसाइलों को शौक पूरा नहीं हुआ। अमेरिका ने लाख प्रतिबंध लगाए, कुछ वक्त तक किम जोंग शांत भी रहा लेकिन 2020 की शुरआत में ही कह दिया कि उत्तर कोरिया परमाणु परीक्षण करके ही दम लेगा।  

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह शासक किम जोंग उन को न्यूक्लियर धमाके देखने में मज़ा आता है। किम जोंग उन विकास का नहीं बर्बादी का पक्षधर है। किम जोंग उन के परमाणु प्रेम के कारण अमेरिका ने नॉर्थ कोरिया पर बहुत से प्रतिबंध लगाए लेकिन कोई लाभ नहीं हुआ। किम जोंग उन परमाणु प्रेमी था है व रहेगा। व ये बात अमेरिका के हित में बिल्कुल नहीं है।  

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने परमाणु व इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षणों पर लगी रोक हटाने का ऐलान कर दिया है व जल्द ख़तरनाक हथियारों के प्रदर्शन व परीक्षण की धमकी दी है। जानकारों को मानना है कि नॉर्थ कोरिया की सरकारी मीडिया की दी हुई ये समाचार ऐसी है जैसे किम जोंग ने डोनल्ड ट्रम्प को सीधे तौर पर मिसाइल की धमकी दे दी है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने किम को सलाह दी है कि कोई व रास्ता अपनाएं क्योंकि अमेरिका उत्तर कोरिया के साथ शांति चाहता है।  

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच मिसाइल प्रोग्राम रोकने को लेकर वार्ता पूरी तरह टूट चुकी है। अब किम जोंग उन ने ट्रंप को नयी धमकी दी है। किम जोंग उन ने बोला है कि उत्तर कोरिया अब न्यूक्लियर हथियारों पर नए सिरे से कार्य करेगा। नए वर्ष के मौके पर किम ने 29 दिसंबर को ही अपनी पार्टी के साथ मीटिंग की, जिसमें उसने परमाणु प्रोग्राम व मिसाइल परीक्षणों  को फिर से प्रारम्भ करने का ऐलान कर दिया है।

इराक में ईरानी समर्थकों के महज़ विरोध भर से अमेरिका के राष्ट्रपति भड़क उठे। नतीजा भुगतने की धमकी दी। नॉर्थ कोरिया ने तो सीधा अमेरिका को ही धमकी दी है। अमेरिका का नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के प्रति क्या रवैया होगा, ये देखने वाली बात होगी। हालांकि किम जोंग पिछले कुछ वक्त से लगातार डोनल्ड ट्रंप को क्रिसमस व न्यू ईयर गिफ्ट देने की बात कह रहे हैं तो क्या ट्रंप के लिए न्यूक्लियर मिसाइल परीक्षण ही किम जोंग उन का गिफ्ट है।