निकोलस मादुरो ने अमरीका से अपनी सुरक्षा के लिए देश भर में तैनात कर दी तोपें

निकोलस मादुरो ने अमरीका से अपनी सुरक्षा के लिए देश भर में तैनात कर दी तोपें

वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो (Nicolas Maduro) ने अमरीका से अपनी सुरक्षा के लिए देश भर में तोपें तैनात कर दी है. उन्होंने बोला कि अगर वह हमला करता है तो उसे माकूल जवाब दिया जाएगा.

गौतरलब है कि वेनेजुएला के राष्‍ट्रपति पर अमरीका ने इनाम घोषित कर रखा है. अमेरिका ने मादक पदार्थों की तस्‍करी के आरोप में उन पर डेढ़ करोड़ डॉलर का इनाम घोषित किया है. मादुरो का बोलना है कि उन्‍होंने देश के लोगों की रक्षा के लिए यह आदेश दिया है.

मादुरो ने ट्वीट कर बोला कि उन्होंने देश के नागरिकों की सुरक्षा के लिए रणनीतिक रूप से अहम इलाकों में तोपें तैनात करने का आदेश दिया है. उन्‍होंने बोला कि वह कोलंबिया व अमरीका से पोषित समूहों की निंदा करते हैं जो हिंसात्‍मक कार्रवाई के जरिए हमारे देश की स्थिरता को निर्बल करना चाहते हैं.

राष्‍ट्रपति मादुरो को सता रहा है बड़ा डर

इससे पहले मंगलवार को मादुरो ने दुनियाभर के नेताओं को संबोधित कर अनुरोध किया कि वे उनकी सहायता करें. मादुरो को यह भय सता रहा है कि अमरीका उन्‍हें अरैस्ट करने के लिए कार्रवाई कर सकता है. मादुरो के अनुसार अमरीका द्वारा ड्रग्‍स की तस्‍करी का आरोप झूठा है. उसके पास कोई सबूत नहीं है. इससे पहले अमरीका ने घोषणा की थी कि वह मादक पदार्थों की तस्करी के मुद्दे में वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो की गिरफ्तारी लायक सूचना देने वाले को 1.5 करोड़ डॉलर का इनाम देगा.

ये घोषणा खुद अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने की थी. पोम्पियो ने पुरस्कार की घोषणा न्याय विभाग द्वारा मादुरो के विरूद्ध मुद्दे के खुलासे के बाद की. न्‍याय विभाग ने मादुरो के नाम का उल्लेख एक राष्‍ट्रपति के रूप में किया है. न कि एक सामान्य क्रिमिनल के रूप में. अमरीका वेनेजुएला के विपक्षी नेता जुआन गुएडो को सत्तारूढ़ होने में मदद कर रहा है.