हांगकांग में प्रदर्शन के दौरान हांगकांग पुलिस ने इस मामले में इतने लोगो को लिया हिरासत में

हांगकांग में प्रदर्शन के दौरान  हांगकांग पुलिस ने इस मामले में इतने लोगो को लिया हिरासत में

कई महीनों से हांगकांग में लगातार हो रहे प्रदर्शन के बाद अभी भी प्रदर्शनों का सिलसिला जारी है. इसी कड़ी में हांगकांग पुलिस ने रविवार को शहरभर में छापे के दौरान एक बंदूक सहित कई हथियार जब्त किए व 11 लोगों को हिरासत में लिया है.

अधिकारियों का मानना है कि हथियारों का प्रयोग बाद में होने वाले सरकार विरोधी बड़े प्रदर्शन में तानाशाही पैदा करने के लिए किया जाता.

साउथ चाइना मॉर्निग पोस्ट ने फोर्स के एक टेलीविजन प्रेस कांफ्रेस के हवाले से अपनी रिपोर्ट में बोला कि इन प्राप्त की गई वस्तुओं में ग्लॉक सेमी-ऑटोमेटिक पिस्तौल के साथ पांच मैगजीन, जिसमें से तीन लोलेड थी व कुल 105 गोलियां थीं.

पहली बार विरोध-प्रदर्शन के दौरान जब्त की गई बंदूक

पुलिस ने कहा- यह पहली बार है कि छह महीने के विरोध प्रदर्शन के दौरान एक बंदूक जब्त की गई है. गुप्तचरों का बोलना है कि हथियारों का प्रयोग जुलूस के लिए होना था, जो 11 जगहों पर छापेमारी के दौरान पाए गए.

पुलिस ने बोला कि 9mm पिस्तौल का पाया जाना साक्ष्य है कि लोगों को जुलूस और रैली के दौरान अलर्ट रहना चाहिए, जिसे सिविल ह्यूमन राइट्स फ्रंट द्वारा आयोजित है.

अधिकारियों ने बोला कि चाकू, कृपाण, बेंत, पेपर स्प्रे और पटाखे भी जब्त किए गए हैं. इस बीच आठ पुरुषों और तीन स्त्रियों को हिरासत में लिया गया है, जिनकी आयु 20 से 63 के बीच है.

पुलिस के अनुसार, ये लोग 20 अक्टूबर को मोंग कोक पुलिस स्टेशन में पेट्रोल बम फेंकने के विषय में वांछित एक समूह का भाग थे. बता दें कि बीते 6 महीने से हांगकांग में चाइना के विरूद्ध लगातार विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं.