डोनाल्ड ट्रंप के नरम पड़े तेवर कहा - 'खड़े है ईरानी लोगों के साथ हमेशा'

डोनाल्ड ट्रंप के नरम पड़े तेवर कहा - 'खड़े है ईरानी लोगों के साथ हमेशा'

ईरान से जारी तनाव को लेकर अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के तेवर नरम पड़ रहे हैं. राष्ट्रपति ट्रंप ने शनिवार को बोला कि वे हमेशा ईरानी लोगों के साथ खड़े हैं व उनकी नाराजगी पर गौर कर रहे हैं, जब से ईरानी सरकार ने एक विमान को मार गिराने का दावा किया है. बताते चलें कि बीते दिनों तेहरान एयरपोर्ट पर एक विमान एक्सीडेंट हुआ था, जिसमें 176 लोग मारे गए थे.

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक ट्वीट में लिखा कि ईरान के बहादुर,लंबे समय से पीड़ित लोगों के लिए वह सहानुभूति रखता है. उन्होंने बोला कि वह अपनी प्रेसीडेंसी की आरंभ से साथ खड़े हैं. उनका प्रशासन आपके साथ खड़ा रहेगा. ट्रंप ने ट्वीट में लिखा है कि वह आपके विरोध पर बारीकी से नजर रख रहे हैं व आपके साहस से प्रेरित हैं.' राष्ट्रपति ट्रंप ने फारसी में भी यही बात ट्वीट की.

ईरान ने स्वीकारी विमान पर हमले की बात

ईरान ने शनिवार को माना कि उसने ही तेहरान के बाहरी इलाके में यूक्रेन के विमान को भूलवश मार गिराया था. ईरान ने इसे 'मानवीय भूल' बोला है. विमान में 176 लोग सवार थे. ईरान ने बोला कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. तेहरान के प्रेस टीवी के मुताबिक, एक बयान में ईरान ने बोला कि बुधवार को एक्सीडेंट के समय सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया था. दावा किया गया कि अमेरिका का बोइंग 737-800 विमान आईआरजीसी मिलिटरी सेंटर के करीब उड़ान भर रहा था. यूक्रेनी विमान भी उसके करीब उड़ान भर रहा था, गलती से उसे अमेरिकी विमान समझ लिया गया व मार गिराया गया.

फारसी में अपने ट्वीट से पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बोला कि आने वाले दिनों में ईरान अमेरिका के चार दूतावासों पर हमला कर सकता है. फॉक्स न्यूज को दिए साक्षात्कार में ईरान के संभावित हमलों के बारे में पूछने पर ट्रंप ने कहा, हम आपको बताएंगे कि शायद यह बगदाद में दूतावास पर होना था। खबर एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, ट्रंप ने कहा-मैं इसका खुलासा कर सकता हूं कि मैं मानता हूं कि ये चार दूतावास हैं. अमेरिका ने हाल ही में बगदाद हवाईअड्डे पर हवाई हमला कर ईरान की इस्लामिक रिवोल्यूशन गॉर्ड्स कॉर्प्स के कुद्स फोर्स के पूर्व कमांडर कासिम सुलेमानी की मर्डर कर दी थी.