इस वजह से हो रही है खूबसूरत शहर सिडनी की हवा बेकार, जाने

इस वजह से हो रही है खूबसूरत शहर सिडनी की हवा बेकार, जाने

ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी आग की वजह से उसके सबसे बड़े व खूबसूरत शहर सिडनी की हवा दिल्ली से ज्यादा बेकार हो चुकी है. यहां के लोगों का दम घुटने लगा है. धुएं की वजह से लोगों की आखें जल रही हैं, इसके साथ सांस लेने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

शहर में फेरी सर्विस को बंद कर दिया गया है व लोगों को स्वास्थ्य संबंधी चेतावनी दी गई है. सिडनी ओपेरा हाउस व हार्बर ब्रिज धुंध की मोटी चादर की वजह से यहां का नजारा अच्छा नहीं रह गया है.मंगलवार को सिडनी के कई इलाके दिल्ली से भी ज्यादा बदतर दशा दिखे. दिल्ली में औसतन पीएम 2.5 जहां 219.7 रहा तो वहीं सिडनी के कई इलाकों में यह बहुत ज्यादा ज्यादा था. न्यू साउथ वेल्स सरकार की वेबसाइट के मुताबिक 24 घंटों के दौरान ब्रेडफील्ड हाइवे पर यह 582, लीवरपूल में 453 व कटूम्बा में 263 रहा.

पूर्वी इलाकों में तो 2552 पहुंचा एक्यूआई

दोनों राष्ट्रों के एक्यूआई की सीधे तौर पर तुलना नहीं की जा सकती, लेकिन एयर प्लूमलैब्स की वेबसाइट जो क्यूआई के तुलनात्मक आंकड़े देता है, के मुताबिक मंगलवार को दिल्ली में जहां एक्यूआई(एयर क्वॉलिटी इंडेक्स) का सबसे उच्च स्तर 325 रहा वहीं सिडनी में यह 341 दर्ज किया गया.

सिडनी का एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 200 के खतरनाक स्तर को पार कर चुका है व कुछ पूर्वी इलाकों में तो यह 2,552 तक पहुंच चुका है. स्थिति इतनी बेकार हो चुकी है कि शहर में राख ही राख फैली है व ठीक से दिखाई न पड़ने के कारण सिडनी एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स का आवागमन 30 मिनट की देरी से हो रहा है.

25% ज्यादा बढ़ी मरीजों की संख्या

वहीं अस्पतालों में उपचार करवाने वाले लोगों की संख्या में 25 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. न्यू साउथ वेल्स स्टेट के डायरेक्टर ऑफ इन्वाइरनमेंट हेल्थ रिचर्ड ब्रूम ने बताया, 'जितना हमने देखा है यह अब तक का सबसे बेकार एयर क्वॉलिटी है.' प्रशासन ने सांस के मरीजों, दिल व फेफड़ों के मरीजों को घर में रहने की हिदायत दी है. आग बुझाने में लगे कर्मचारी भी मास्क पहनकर कार्य कर रहे हैं. शहर के पश्चिमी इलाके में 42 डिग्री सेल्सियस तापमान रहने का अनुमान है.