अपने वजन से परेशान रहते हैं तो जाने ये टिप्स

 अपने वजन से परेशान रहते हैं तो जाने ये टिप्स

कई लोग अपने वजन से परेशान रहते हैं व वजन कम भी करना चाहते हैं, लेकिन इसके लिए पर्याप्त समय नहीं निकाल पाते. यकीन मानें पसंदीदा फूड से दूर रहने व जिम में खूब पसीना बहाए बिना सरलता से वजन कम कर सकते हैं व वह भी अपने घर के आराम में. ऐसा परिणाम पाने के लिए रात में कुछ आदतों को अपनाने की आवश्यकता है.

इसके लिए पहले तो सबसे महत्वपूर्ण है नींद. शरीर को अच्छा से कार्य करने के लिए अच्छी नींद की आवश्यकता है. www.myupchar.com से जुड़े एम्स के डाक्टर अनुराग शाही का बोलना है कि यदि प्रतिदिन 7-8 घंटे नहीं सोते हैं तो शरीर व मन ताजा नहीं रहता है व तनाव की समस्या से गुजरते हैं. तनाव में ज्यादा खाते हैं व फैट बढ़ता है. बेकार नींद शरीर की कैलोरी, ऊर्जा के उपयोग व इसे सहेजने की क्षमता को प्रभावित कर सकती है. यह लेप्टिन व घ्रेलिन हार्मोन में असंतुलन पैदा करके ऐसा करता है. लेप्टिन भूख को दबाता है, घ्रेलिन भूख बढ़ाकर ज्यादा खाना खाने के लिए उकसाता है. रात की एक अच्छी नींद, घ्रेलिन के स्तर को कम करेगी व शरीर में लेप्टिन के स्तर को बढ़ाएगी. इससे वजन कम करने में मदद मिलेगी.

अधिकांश मीट में अमीनो एसिड ट्रिप्टोफैन पाया जाता है. यह अच्छी नींद के असर को बढ़ाता है. सोने से पहले ऐसा करने से वजन कम करने में मदद मिल सकती है. यह रात में कम खाने में भी मदद कर सकता है. कॉटेज पनीर में भी यह अमीनो एसिड होता है. इसलिए शाकाहारी इसे अपने खाने में शामिल कर सकते हैं. www.myupchar.com  से जुड़ी डाक्टर पल्लवी धवन का बोलना है कि एक समय का भोजन छोड़कर शायद कुछ अलावा कैलोरी को कम करने में मदद मिलती है, लेकिन यह करना समझदारी की बात नहीं है. एक भोजन छोड़कर आदमी अगले भोजन पर टूट पड़ते हैं, जिससे ज्यादा खाना खा लेते हैं. बिना खाए भूखे रहकर सोने जाना वजन घटाने की अच्छी रणनीति नहीं है. ऐसा करने से नींद में खलल पड़ेगा, यह जगाए रखेगा व रात के बीच कुछ खाने के लिए उठने पर विवश करेगा. यहां तक कि अगर देर रात के स्नैक्स से परहेज करते हैं, तो होने कि सम्भावना है प्रातः काल उठते ही खाने बैठ जाएं व ओवरईटिंग के शिकार हो जाए. यदि वजन कम करना चाहते हैं तो निश्चित रूप से यह अच्छा नहीं है.

आसान रणनीति में एक वस्तु व शामिल है व वह है सैर करें या अभ्यास बाइक चलाएं. थोड़ा कार्डियो मेटाबॉलिज्म को बदलेगा. सोते समय भी शरीर कार्य करता है. इसलिए, यह थोड़ा सा कोशिश आपको सोते समय पेट की चर्बी कम करने में मदद करता है.

ठंडे कमरे में सोना वास्तव में वजन कम करने में मदद कर सकता है. यह विशेष रूप से प्रभावी है जब पेट का फैट जलाने की बात आती है. ऐसा इसलिए है क्योंकि खुद को गर्म रखने के लिए फैट जलाते हैं.