पेट की समस्या के लिए लाभकारी हैं ये टिप्स

पेट की समस्या के लिए लाभकारी हैं ये टिप्स

हर कोई समय-समय पर खाने या पीने के बाद पेट में गड़बड़ी, अपच, दर्द या ऐंठन का अनुभव करता है. आमतौर पर पेट दर्द की शिकायत कुछ समय या लंबे समय तक हो सकती है. ये दर्द कम या तेज होने कि सम्भावना है. इसकी स्थान भी पेट में दाएं या बाएं किनारे हो सकती है. पेट

में दर्द आम से लेकर गंभीर स्थिति के हो सकते है. www.myupchar.com से जुड़ी एम्स की डाक्टर वीके राजलक्ष्मी का बोलना है कि सामान्य पेट दर्द आधे से अधिक हिस्से में होता है. यह दर्द इलाज बिना भी अच्छा हो जाता है. इस दर्द का कारण अपच या पेट की समस्याएं हो सकती है. घरेलू इलाज की मदद से आदमी को सरलता से राहत मिल जाती है. लोकल दर्द की बात करें तो यह एक हिस्से में ही होता है. सामान्य दर्द के रूप में प्रारम्भ होकर अपेंडिसाइटिस का दर्द फिर अक्सर पेट के एक हिस्से में प्रारम्भ होने लगता है.

www.myupchar.com से जुड़े एम्स के डाक्टर केएम नाधीर का बोलना है कि तीसरी तरह का दर्द ऐंठन यानी क्रैम्पिंग है. यह मांसपेशियों में आकस्मित होने वाले संकुचन से होता है. यह दर्द बार-बार आता व जाता रहता है. पेट की ऐंठन या मरोड़ का दर्द छाती व पेल्विक के बीच के हिस्से में महसूस होता है. इसका कारण आमतौर पर कब्ज, अपच, पेट में वायरस  या मासिक धर्म हो सकते हैं. कुछ घरेलू तरीका अपनाकर पेट के इस दर्द से छुटकारा पा सकते हैं.
www.myupchar.com से जुड़े डाक्टर लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का बोलना है कि कुछ प्राकृतिक व आसान घरेलू तरीकों से जल्द राहत मिल सकती है. ये घरेलू तरीका विशेष रूप से गैस, सूजन व अपच आदि पेट की समस्या के लिए लाभकारी हैं.

डिहाइड्रेशन
डिहाइड्रेशन पेट की गड़बड़ को बढ़ा सकता है. शरीर को खाद्य पदार्थों व पेय पदार्थों से कुशलतापूर्वक पोषक तत्वों को पचाने व अवशोषित करने के लिए पानी की आवश्यकता होती है. डिहाइड्रेटेड होने से पाचन अधिक मुश्किल व कम प्रभावी होता है, जिससे पेट बेकार होने की संभावना बढ़ जाती है. अधिकतर लोगों के लिए, एक दिन में लगभग 8 या अधिक ग्लास पानी की आवश्यकता होती है. छोटे बच्चों को वयस्कों की तुलना में थोड़ा कम पानी की जरूरत होती है.

अदरक
अदरक बेकार पेट व अपच के लिए एक सामान्य प्राकृतिक इलाज है. अदरक पेट में उपस्थित एसिड को कम रखता है. इसके एंटीऑक्सीडेंट व एंटीइन्फ्लेमेटरी गुण से पाचन प्रक्रिया ठीक रहती है.

सौफ
अपच के कारण हुए पेट दर्द से जल्दी राहत देने में सौंफ कार्य आ सकती है. गैस, सूजन आदि लक्षणों से भी राहत देने में मदद करती है.

हींग
पेट में दर्द, गैस या अपच के लिए हींग असरदार है. इसमें उपस्थित एंटीस्स्मोडिक व एंटिफलाटुलेंट गुण यह कार्य करने में मदद करते हैं.

पुदीना
गैस के कारण होने वाले पेट दर्द को कम करने में मदद करता है. पाचन प्रक्रिया को बेहतर बनाता है.

दही
इसके गुड बैक्टीरिया पाचन सुधारते हैं व अपच में होने वाली तकलीफ को कम करते हैं.

गर्म बोतल
पेट की मांसपेशियों को तब आराम मिलता है जब पेट को गर्म पानी की बोतल से सेंकते हैं. इससे ऐंठन शांत होती है.

अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें