भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में जाने ये टिप्स

 भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में जाने ये टिप्स

आजकल की भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में हर अगला इंसान परेशान है व तनाव ग्रस्त है सिर्फ बड़े ही नहीं छोटे बच्चे भी इस तनाव का शिकार हो जाते है. बड़ो की बात करे तो वे अपने maturity से इसका हल तो निकल लेते है लेकिन उन नन्हे बच्चो

का क्या ? उन्हें इस तनाव से निकले के लिए माता - पिता को चाहिए की वे बच्चो को समझे व उन्हें समय दे , इसलिए आज हम आपके साथ शेयर करने जा रहे उन लक्षणों के बारे में जिन्हे अपने बच्चो में देख आप समझ सकते है की आपका बच्चा तनावग्रस्त है , तो देर किस बात की है आइये जानते है इन लक्षणों के बारे में । ।

अगर आपका बच्चा स्कूल ना जाने के बहाने बनाता है व सिर्फ घर पर बैठना चाहता है, तो ये संभव है कि आपका बच्चा तनाव से परेशान हो। व ये तनाव उसे किसी भी बातो में इन्वॉल्व होने नहीं दे रहा है अमेरिका की एक युनवर्सिटी में हुए शोध की माने तो अगर आपका बच्चा स्कूल जाने से कतराता है या स्कूल में उसकी अटेंडेंस कम है तो इसका कारण तनाव होने कि सम्भावना है।

इस बात की जाँच कर रहे शोध में इस स्टडी को करते हुए स्कूल की अटेंडेंस को 4 भागों में बांट दिया गया। सरल शब्दों में उन्होंने वो कारण चिन्हित किए जिसके चलते बच्चे स्कूल से छु्ट्टी लेते हैं। वो चार कारण थे- कभी-कभी स्कूल ना जाना, बीमारी के चलते छुट्टी, बिना किसी कारण के छुट्टी, स्कूल जाने से साफ इंकार। अब शोधकर्ताओं को अध्ययन करके पता चला कि बिना किसी कारण के जो छुट्टी ली जाती है, उसमें सबसे बड़ा कारण तनाव होता है। जानकारों ने इस बात पर चिंता जाहिर की कि इसनी छोटी आयु के बच्चे तनाव से ग्रसित हो रहे हैं। उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि ये तनाव बच्चों की पढ़ाई के साथ उनकी सामाजिक व आर्थिक विकास में भी बाधा बन सकता है। इसलिए बच्चो में तनाव कम कारण जरुरी है